close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / पंचायत में वैसे तो कई शासकीय योजनाएं लेकिन छबील के लिए शायद कोई योजना ही नहीं ।
.

पंचायत में वैसे तो कई शासकीय योजनाएं लेकिन छबील के लिए शायद कोई योजना ही नहीं ।

Advertisement

ना पेंशन और ना ही विकलांगता को आसान बनाने कोई अन्य मदद ।

दबंग न्यूज लाईव
सोमवार 18.10.2021

कीर्ति भूषण नारायण

पत्थलगांव – यदि शासकीय योजनाओं की बात करें और हितग्राहियों के हिसाब से देखा जाएगा तो पंचायत में सभी जरूरतमंदों के लिए कई कई योजनाएं हैं । यदि दिव्यांगों की बात की जाए तो उनके लिए भी पंचायत की तरफ से कई योजनाएं हैं जो उनके राहत के लिए सरकार ने घोषित की हुई है ।


लेकिन पत्थलगांव के पालिडीह ग्राम पंचायत में एक दिव्यांग छबील सिदार के लिए इन योजनाओं का कोई मतलब ही नहीं है क्योंकि छबील को किसी भी प्रकार की योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है ।

आज प्रत्येक व्यक्ति को सक्षम बनाने के लिए, केंद्र एवं राज्य सरकार के द्वारा कई योजनाओं से जोड़कर लाभान्वित करने में लगी है, परन्तु ग्रामीण तबके के लोगों को पंचायत लाभ दिला पाने में असफल ही नजर आ रही है, ऐसा ही मामला जशपुर जिले के पत्थलगॉव विकासखंड के ग्राम पंचायत पालिडीह का नजारा ही कुछ ऐसा है, इसीलिए पालीडीह ग्राम के वार्ड क्रमांक 10 का अक्षम विकलांग व्यक्ति छबील सिदार पिता मोहर सिदार  ने विडियो मेसेज के द्वारा शासन प्रशासन से गुहार लगाई है कि उसे योजनाओं से वंचित ना रखें, सरकारी पेंशन योजना, साइकिल या रिक्शा योजना और भी समस्यायों को लेकर विडियो के द्वारा संदेश पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि छबील जी को चलने फिरने में बहुत परेशानी होती है,


आज पालीडीह पंचायत श्यामा प्रसाद मुखर्जी कलस्टर ग्राम से जुड़ने के बाद कई शासकीय योजनाएं जैसे घर घर नल जल योजना के तहत गांव में 150 लाख लिटर वाला पानी टंकी बना, महिलाओं को सक्षम करने हेतु, स्वसहायता समूह सेड बना, महिला समूह ढाबा बना लेकिन योजनाएं आईं परंतु लाभान्वित कोई नहीं हुआ।

आज दबंग न्यूज लाईव के माध्यम से छबील सिदार वार्ड 10 पालीडीह जी का संदेश शासन प्रशासन तक पहुंचाने की कोशिश रहेगी ताकि योजनाओं का लाभ ऐसे लोगों को मिले जो वाकई में इसके हकदार हैं I

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

ब्रेकिंग – तेंदुवे का दुसरा शिकार भी फेल कहीं तेंदुवा हिंसक ना हो जाए ।

Advertisement कल रात फिर गांव में घुसकर बछड़े पर किया हमला । ...

error: Content is protected !!