close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / पंचायत सचिव की मौत के पांच दिन के अंदर ही आश्रित को मिली अनुकंपा नियुक्ति । सरकार और संघ ने मिलकर दिया पचास हजार की सहायता राशि ।
.

पंचायत सचिव की मौत के पांच दिन के अंदर ही आश्रित को मिली अनुकंपा नियुक्ति । सरकार और संघ ने मिलकर दिया पचास हजार की सहायता राशि ।

Advertisement

करोना काल में डयूटी करते हुए पंचायत सचिव की हुई मौत तो अधिकारी ने पांच दिन मंे कर दिया अनुकम्पा नियुक्ति ।

 

दबंग न्यूज लाईव
गुरूवार 13.05.2021

आरंग करोना काल में डयूटी करते हुए एक पंचायत सचिव की मौत के बाद जिम्मेदारी अधिकारी ने जिस संवेदना और तत्परता के साथ अपना फर्ज निभाया उसने प्रदेश में अनुकम्पा नियुक्ति के मामले में मील का पत्थर स्थापित कर दिया । पंचायत सचिव की मौत के बाद सचिव संघ और अधिकारी ने मामले में संज्ञान लेते हुए पीड़ित परिवार के एक सदस्य को तत्काल अनुकम्पा नियुक्ति दे दी ।


मामला रायपुर जिले के आरंग ब्लाक के रसोटा ग्राम पंचायत का है । यहां के सचिव डायमंड विश्वकर्मा की मौत करोना काल में अपने पंचायत में डयूटी करते हुए 6 मई को हो गई । इस बात की जानकारी जिला पंचायत सीईओ डा गौरव सिंह को हुई तो उन्होंने स्वयं ही पंचायत संघ के पदाधिकारियों को फोन किया और पुरी जानकारी एकत्र की । सीईओ को पता चला की मृतक पंचायत सचिव डायमंड सिंह की बहन चुकेश्वरी विश्वकर्मा अनुकम्पा नियुक्ति के लिए पात्र है तो उन्होंने सारी औपचारिकताएं तत्काल करवाते हुए मृतक सचिव की बहन को अनुकम्पा नियुक्ति दिलवाते हुए 12 मई को नियुक्ति आदेश जारी कर दिया ।


अनुकम्पा नियुक्ति के मामले में ये मामला शायद ऐसा पहला मामला हो जिसमे पांच दिन के अंदर पीड़ित परिवार के सदस्य को अनुकम्पा नियुक्ति मिल गई हो गई । वर्ना सालों साल औपचारिकताओं , फाईलों और दफ्तरों के चक्करों में खप जाते हैं । लेकिन इस मामले ने ये बताया कि यदि अधिकारी वाकई अपनी जिम्मेदारी को समझे और संवेदनशील हो तो कोई भी काम इतना कठिन नहीं होता जिसके लिए पीड़ित परिवार को सालों लग जाए ।

विकासखंड के पंचायत प्रतिनिधियों और पदाधिकारियों ने भी इस मामले में जिस प्रकार का सहयोग और तत्परता दिखाई वो प्रशंसनीय है ।

सचिव संघ के पूर्व प्रातांध्यक्ष घनश्याम दास घिदौड़े ने बताया – पंचायत सचिव की आकस्मिक मौत कोविड के चलते हो गई उसके बाद हमने जिला सीईओ से इस मामले में बात की और उन्होंने पूरे घटना को समझते हुए तत्काल अनुकम्पा नियुक्ति की प्रक्रिया को पूर्ण किया । हम सीईओ सर का धन्यवाद देते हैं जिन्होंने इस संवेदनशील मामले में त्वरित कार्यवाही की । सरकार और हमारे सचिव संघ की तरफ से पीड़ित परिवार को पचास हजार की सहायता राशि भी तत्काल प्रदान की गई है ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

रेलवे ने अंडर ब्रिज बनाया है कि नहर समझ से परे है अच्छा होता रेलवे यहां बोट की भी व्यवस्था कर देता ।

Advertisement दो दिन के पानी ने रेलवे के सभी अंडर ब्रिज को ...

error: Content is protected !!