close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / Uncategorized / Kawardha – कवर्धा में भड़के दंगो से भीड़ बेकाबू
.

Kawardha – कवर्धा में भड़के दंगो से भीड़ बेकाबू

Advertisement

Kawardha  बन्द के आव्हान पर एकत्र हुए लोग बेकाबू और हिंसक हुए !

तोड़फोड़ पथराव और नारेबाजी के बीच पुलिस ने जमकर भांजी लाठी l

जिला कलेक्टर की अपील -जो जहां है वहीं रुक जाए
पुलिस प्रशासन द्वारा हेल्पलाइन नम्बर जारी

राजेश श्रीवास्तव ब्यूरो चीफ कबीरधाम

कबीरधाम 6 अक्टूबर 2021

विगत दिनों कबीरधाम जिले में धर्मध्वज के अपमान के विरोधस्वरूप दो समुदायों के बीच हुए हिंसक घटनाओं के बाद इस घटना ने खूनी संघर्ष का रूप ले लिया है । बजरंगदल के एक कार्यकर्ता की पिटाई और हिंदुओं के धार्मिक ध्वज के अपमान के विरोध में नगर और आसपास के हिन्दू संगठनों ने उग्र प्रदर्शन करते हुए इस घटना के दोषियों को गिरफ्तार कर रिपोर्ट दर्ज करने की मांग की गई ।

परन्तु पुलिस ने किसी भी प्रकार की कार्यवाही नही की जिसके फलस्वरूप दंगा भड़क उठा । स्थिति की भयावहता को देखते हुए दुर्ग रेंज के आई जी सहित चार जिलों के पुलिस कप्तान मय फोर्स के जिले में तैनात हैं ।


आज जिला सहित सभी तहसील मुख्यालयों में बंद का आह्वान किया गया था । सभी जगह तो स्थिति सामान्य रही पर कवर्धा में प्रदर्शन के दरम्यान शामिल भीड़ उग्र होकर वाहनों दुकानों में तोड़फोड़ करने लगे । धारा 144 लागू होने के बावजूद दसों हजार की संख्या वाली भीड़ बेकाबू हो गई । स्थिति पर नियंत्रण रखने के लिए तैनात पुलिसकर्मियों ने इस बीच जम जम कर लाठी भांजी

इस घटना की निंदा करते हुए राजनांदगांव लोकसभा के सांसद संतोष पांडेय ने जिले की लचर प्रशासनिक व्यवस्था पर अधिकारियों को फटकार लगाते हुए शीघ्र ही हालात पर काबू करने के निर्देश दिए हैं । जिला कलेक्टर ने कर्फ्यू की अवधि बढ़ा दी है तथा लोगों से अपील किया है कि जो जहां हैं वहीं रुक जाए । बेवजह घरों से नही निकलें । सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न लगाएं ।

नागरिकों के लिए पुलिस प्रशासन ने पुलिस कंट्रोल रूम के दूरभाष नम्बर 9479192499 हेल्पलाइन नम्बर जारी किया है , ताकि कहीं फंसे या मुसीबत में पड़े लोगो को सहायता उपलब्ध करवाई जा सके ।

शासन प्रशासन को चाहिए कि इस मुद्दे पर ठोस कार्यवाही करते हुए दोषियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित कर प्राथमिकी दर्ज करें । स्थिति को देखकर लगता है कि यह मामला जल्द ही शांत नही होने वाला । किसी भी अप्रिय स्थिति निर्मित होने पर शासन और प्रशासन की छीछालेदर तय है …!

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

sarpanch sachiv vivad – पंचायत सचिव को कमरे में बंद कर मारपीट – जब सरपंच पति के साथ उपसरपंच भी हो तो पावर आ ही जाता है ।

Advertisement सचिव संघ में नाराजगी कहा उचित कार्यवाही नहीं हुई तो करेंगे ...

error: Content is protected !!