close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / kota Post office -पोस्ट आफिस आर डी जमा विवाद में आया नया मोड़ , हितग्राही के बाद एजेण्ट ने रखा अपना पक्ष ।
.

kota Post office -पोस्ट आफिस आर डी जमा विवाद में आया नया मोड़ , हितग्राही के बाद एजेण्ट ने रखा अपना पक्ष ।

Advertisement

डाक घर एजेंट ने अपने उपर लगे आरोपों को बताया बेबुनियाद ।

Dabanag News Live  04.11.2021

विकास तिवारी

करगीरोड कोटा – कोटा पोस्ट आफिस में आर डी जमा खाते को लेकर दो दिन पहले नाका चौक के व्यवसायी विनोद श्रीवास ने एक शिकायत पत्र पोस्ट आफिस के साथ ही थाने में भी दिया था । शिकायत पत्र में विनोद श्रीवास ने पोस्ट आफिस के एक एजेण्ट संदीप अग्रहरी पर आरोप लगाया था कि उनके द्वारा उनके जमा खाते में राशि जमा नहीं करवाई जा रही है । शिकायत पत्र में विनोद श्रीवास ने बताया था कि उन्होंने जनवरी 2020 से खाता खोलने के लिए संदीप अग्रहरी को कहा था और हर माह छह सौ रूपए की राशि उनके द्वारा जमा करवाई जा रही थी लेकिन बाद में पता चला कि खाता जनवरी 2020 से नहीं अक्टूबर 2020 से खोला गया है तथा जनवरी से सितम्बर तक की राशी जमा नहीं करवाई गई है ।


इस संबंध में पोस्ट आफिस के एजेण्ट संदीप अग्रहरी ने अपनी स्थिति साफ करते हुए थाने में एक आवेदन दिया है कि उनके द्वारा किसी भी प्रकार की कोई हेराफेरी या धोखाधड़ी नहीं की गई है तथा विनोद श्रीवास उनके उपर झुठा आरोप लगा रहा है ।

दबंग न्यूज लाईव से बात करते हुए विनोद श्रीवास का कहना था – “मैने जनवरी 2020 से छह सौ रूपए प्रतिमाह का खाता खोलने के लिए संदीप अग्रहरी से कहा था मेरा पहले भी एक खाता इनके द्वारा चलाया जा रहा था । लेकिन जनवरी 2020 से नए खाते के लिए वे हर दिन बीस रूपए मुझसे जमा ले रहे थे मैने कई बार उनसे खाते के बारे में पूछा तो उन्होंने संतोषप्रद जवाब नहीं दिया । बाद में उन्होंने मेरे खाते का स्टेटमेंट मुझे भेजा जिसमें खाता अक्टूबर 2020 से खुला हुआ था मैने इस बारे में उनसे पूछा तो वे गाली देने लगे ।”

इस संबंध में संदीप अग्रहरी ने अपना पक्ष रखते हुए दबंग न्यूज लाईव को बताया कि – “विनोद श्रीवास के द्वारा जो कुछ भी अपने शिकायत में कहा गया है वो झुठ और बेबुनियाद है । ये सहीं है कि मैने उनके नए खाते के लिए जनवरी 20 से सितम्बर 2020 तक उचन्त पैसा नौ माह तक लिया गया था जो कि 54 रू होता था । उचन्ति लिए पैसे को नौ से दस माह में ग्राहक वापस ले लेता है तथा अपने काम के लिए जोड़ता है तथा इस पैसे का पोस्ट आफिस से कोई सम्बन्ध नहीं रहता । बाद में इन्होंने अक्टूबर 2020 में खाता खोलने के लिए कहा तो उनका खाता खोल दिया गया । और जनवरी 20 से सितम्बर 20 तक लगभग नौ माह का 54 सौ रूपए भी उनको वापस कर दिया गया । उनका आरोप गलत है तथा मेरी छवी को खराब करने के लिए किया जा रहा है मैने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दिया है ।”

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

ब्रेकिंग – तेंदुवे का दुसरा शिकार भी फेल कहीं तेंदुवा हिंसक ना हो जाए ।

Advertisement कल रात फिर गांव में घुसकर बछड़े पर किया हमला । ...

error: Content is protected !!