close button
करगी रोडकोरबापेंड्रा रोडबिलासपुरभारतमरवाहीरायपुर

अनुविभागीय अधिकारी कोटा और उनकी टीम ने 340 केन्द्रों का दौरा किया और सबकुछ सहीं पाया ।

लेकिन लगता है ढोलमौहा नहीं पहुंचे जहां दो साल से केन्द्र बंद और योजनाएं ठप्प ।

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 24.12.2021

करगीरोड कोटा – कोटा एसडीएम ,तहसीलदार ,नायाब तहसीलदार ,राजस्व निरिक्षक और पटवारी की जंबो निरीक्षण टीम ने कोटा के 340 आंगनबाड़ी केन्द्र का दौरा करके सुपोषण अभियान ,कुपोषित बच्चों के साथ ही पोषण आहार से संबंधित जानकारी ली और उन्हें कहीं कोई समस्या नहीं मिली और ना ही शिकायत प्राप्त हुई । याने कोटा विकासखंड के 340 आंगनबाड़ी केन्द्रों में सबकुछ सहीं चल रहा है ।


लेकिन कल ही एक खबर आई कि कोटा विकासखंड के कोंचरा सेक्टर के ढोलमौहा आंगनबाड़ी में पिछले दो सालों से ताला लटका हुआ है । यहां की सहायिका की मृत्यु के बाद आज सात से आठ साल हो गए यहां सहायिका की पोस्टिंग नहीं हुई , दो साल हो गए यहां की कार्यकर्ता भी रिटायर्ड हो गई लेकिन इस पद पर भी भर्ती आज तक नहीं हुई लिहाजा यहां का आंगनबाड़ी केन्द्र पिछले दो सालों से बंद है ।


जानकारी के अनुसार पिछले दो सालों से ढोलमौहा का प्रभार सोनपुरी की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के जिम्मे सौंप दिया गया है । इस केन्द्र में तीन साल से छह साल के लगभग 25 बच्चे हैं इसके अलावा छह माह से तीन साल के बच्चे भी हैं। सोनपुरी की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बुधवार को यहां टीएचआर बांटती है और घर से बना खाना लाकर गांव की ही एक महिला के घर बच्चों को खिलाती है ।


कोटा विकासखंड के सभी उच्च अधिकारियों ने आंगनबाड़ी का दौरा तो जरूर किया लेकिन लगता है ये टीम ढोलमौह के केन्द्र नहीं पहुंची । यदि टीम ढोलमौहा आंगनबाड़ी केन्द्र पहुंच जाती तो शायद यहां की समस्या से अवगत हो जाते और यहां की शिकायत भी मिल जाती ।

एसडीएम कार्यालय से निकले एक प्रेस विज्ञप्ति से ये भी पता चला कि टीम ने सभी 340 केन्द्रों का दौरा किया ,अब एक ही दिन इतने केन्द्रों का दौरा कैसे हो गया से भी समझ नहीं आता ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button