close button
कोरबाकरगी रोडपेंड्रा रोडबिलासपुर

हिरन और सुअर के मांस के बीच उलझा मामला ,वन विभाग ने मटन जांच के लिए भेजा और आरोपी कोे जमानत पर छोड़ा ।

पुलिस ने मटन के साथ पकड़ा था एक आरोपी को बाद में वन विभाग के हवाले किया ।

 

दबंग न्यूज लाईव ।
SUNDAY  07.05.2021

करगीरोड कोटा – जिले में हिरन का शिकार थमने का नाम नहीं ले रहा है । पिछले माह एटीआर में हिरन के शिकारों के मामले सामने आए थे । गुरूवार को कोटा पुलिस के द्वारा हिरन के मांस के साथ एक व्यक्ति को गिरफतार करकेे थाने लाया गया । लेकिन कोटा पुलिस मटन को लेकर संशय में थी कि ये किसका मटन है । पुलिस की पुछताछ में आरोपी ने मटन को सुअर का बतायाा जिसके बाद इस बात की तस्दीक करने की आखिर मटन किस जानवर का है पुलिस ने वन विभाग के अधिकारियों से सम्पर्क किया । वन विभाग के अधिकारी भी इस बात की पुष्टि नहीं कर पा रहे थे कि मटन हिरन का है कि सुअर का ।


इसके बाद वन विभाग के अधिकारी और पुलिस आरोपी को लेकर उस जगह पर भी गए जहां जानवर काटा गया था लेकिन यहां भी उन्हें कुछ सुराग नहीं मिला । यहां ना हिरन का कोई अवशेष मिला और ना ही सुअर का ।इसके बाद पुलिस ने पुरा मामला कोटा रेंज के अधिकारियों को सोेैंप दिया । कोटा रेंज के अधिकारियों ने मामले पर अपनी जांच रिपोर्ट तैयारी की और मटन के कुछ हिस्से को जांच के लिए लैब भेज दिया बाकी मटन को आग के हवाले कर दिया ।

File Photo

प्राप्त जानकारी के अनुसार अपनी कागजी कार्यवाही के बाद उच्च अधिकारियों के कहने पर कोटा वन विभाग ने आरोपी को मुचलके पर छोड़ दिया । याने अब जब जांच रिपोर्ट आएगी महीने छह महीने बाद फिर क्लियर होगा कि मटन किस चिज का था तब यदि जरूरी हुआ तो आरोपी को पकड़ा जाएगा नही तो मामला खतम ।

File Photo

इस गंभीर मामले में वन विभाग ने काफी लापरवाही से काम किया है । यदि मटन सुअर का था तो भी घटना स्थल से कुछ तो बरामद होना था । आरोपी ने ऐसा तो नहीं होगा कि जानवर काटने के बाद सब सबूत मिटा दिया हो । यहां तक एक सुअर का एक बाल भी ना मिले । लेकिन अधिकारियों को घटनास्थल पर संदेह या सबूत का एक तिनका तक नहीं मिला ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button