close button
पेंड्रा रोडकोरबाबिलासपुरभारतमरवाहीरायपुर

van vikash nigam -वन विकास निगम का उड़न दस्ता लकड़ी नहीं रात भर घुम घुम कर रेत के नाम पर अवैध वसुली कर रहा ।

उड़नदस्ता का कहना जहां मर्जी वहां कार्यवाही कर सकते हैं ।
वन विकास निगम का उड़न दस्ता लकड़ी तस्करों और अवैध शिकारियों को छोड़ रेत से तेल निकालने पर जुटा ।

दबंग न्यूज लाईव
बुधवार 23.02.2022

करगीरोड कोटा – प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जब से कहा है कि अवैध रेत खनन पर कड़ाई से कार्यवाही की जाए उस समय से कई विभागों की बल्ले बल्ले हो गई है । ऐसे ही विभागों में एक है वन विकास निगम । वन विकास निगम के आरक्षित वनों में अवैध ढंग से पेड़ों की जमकर कटाई हो रही है , इनके वन क्षेत्र में वन्य पशुओं का भी अवैध रूप से शिकार किया जा रहा है लेकिन यहां के जिम्मेदार अधिकारी और कर्मचारी ऐसे अवैध कामों पर रोक लगाने और कार्यवाही करने की अपेक्षा अब रात रात भर शहर में घुम कर ट्रेक्टर वालों से वसुली कर रहे हैं ।

कल रात भी वन विकास निगम का उड़न दस्ता छापेमारी कार्यवाही करता है और सीवीरमन विश्वविद्यालय के सामने रात को नौ बजे एक ट्रेक्टर मालिक को बिना ट्रेक्टर के रोक लेता है और दस हजार रू की मांग करता है । बाद में पता चलता है कि ये उगाही वाला मामला सुबह का है । सुबह के समय ट्रेक्टर वाले को नदी से रेता निकालते वन विकास निगम वालों ने पकड़ लिया बाद में दो चार कागज बना कर जप्ती दिखाते हुए चमकाया गया । ट्रेक्टर वाले ने बोला कि हो गया मामला सेटल कर लेते हैं वन विकास निगम के जिम्मेदार अधिकारी तो यही चाहते भी थे ।

सुबह से शाम तक ट्रेक्टर मालिक ने उड़न दस्ते को घुमाया फिर रात को नौ बजे सीवीरमन के सामने एटीएम के पास बुलवा लिया कि यहां आ जाओ पैसे देता हूं । इसके बाद उड़न दस्ता उड़ते एटीएम के पास उगाही करने पहुंच गया जिसमें तीन लोग मौजूद थे ।

इसी समय ट्रेक्टर मालिक ने मीडिया को भी बुला लिया । मीडिया को देखते ही उड़न दस्ते के चेहरे का रंग ही उड़ गया और वहां से वे ट्रेक्टर मालिक को चमकाते धमकाते निकल गए ।

यदि इतनी ही मुस्तैदी वन विकास निगम का उड़न दस्ता अपने आरक्षित वनों में हो रही कटाई और वन्य पशुओं के शिकार पर दिखाता तो शायद लकड़ी तस्कर और शिकारियों पर कुछ दहशत और रोक लग जाती । लेकिन उड़न दस्ता आजकल रेत से तेल निकालने के काम में लगा हुआ है और वो भी शहर में कहीं भी किसी भी जगह ये अपना रौब दिखाते नजर आते हैं ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button