close button
करगी रोडकोरबापेंड्रा रोडबिलासपुरमरवाहीशिक्षा

पंचायत इंस्पेक्टर ने स्कूल खुला देखा तो कहा मेरे आते तक स्कूल बंद हो जाना चाहिए नहीं तो…

यदि पुरा स्कूल का स्कूल वैक्सीन कराने में लग जाएगा तो स्कूल का क्या होगा ।

पंचायत इंस्पेक्टर का कहना स्कूल बंद करने के लिए नहीं कहा गया ।

 

दबंग न्यूज लाईव
मंगलवार 29.06.2021

करगीरोड कोटा मैं पटैता से विजिट करके आता हूं मेरे आते तक स्कूल बंद हो जाना चाहिए नहीं तो कल एसडीएम से शोकाज नोटिस जारी करवा दी जाएगी । ये धमकी स्कूल के टीचरों को दी कोटा जनपद के पंचायत इंस्पेक्टर संजय यादव ने । मामला आज का है जब गोबरीपाट के हायर सेकेण्डरी स्कूल में स्कूल का स्टाफ रोजमर्रा के काम निपटा रहा था उसी समय कोटा जनपद पंचायत के इंस्पेक्टर संजय यादव कोटा सीईओ के साथ वैक्सीनेशन का हाल देखने गोबरीपाट और पटैता की तरफ पंहुचे । गोबरीपाट पहुंचने पर उन्हें स्कूल खुला दिखा तो ये स्कूल पहुंच गए । इस समय यहां के चार स्टाॅफ अपनी डयूटी में लगे हुए थे । आज यहां बारहवीं की प्रेक्टिकल हो रही थी साथ ही आमाराईट और अन्य स्कूली कार्य किए जा रहे थे ।


पंचायत इंस्पेक्टर स्कूल पहुंचे और स्टाॅफ को बैठे देख भड़क उठे कि यहां कैसे बैठे हो आप सबकी डयूटी वैक्सीनेशन में लगाई है आप लोगों को पता नहीं है क्या ? उनकी इस बात पर वहां के एक स्टाॅफ ने कहा कि हमें इसकी जानकारी ही नहीं है कि सबकी डयूटी लगाई गई है हमारे यहां से एक स्टाफ की डयूटी लगी है जो सामुदायिक भवन में डयूटी कर रही है और हम लोग स्कूल का काम कर रहे हैं ।


शिक्षक की बात पर पंचायत इंस्पेक्टर का पारा चढ़ गया और उन्होंने कहा कि मैं पटैता से वापस आ रहा हूं तब तक स्कूल बंद हो जाना चाहिए नहीं तो कल एसडीएम से शो काज नोटिस जारी करवा दिया जाएगा । अब इस स्कूल का पुरा स्टाफ परेशान है कि क्या किया जाए । क्या स्कूल बंद करके सभी वैक्सीनेशन में जुट जाएं या फिर स्कूल में प्रेक्टिकल ,आमाराईट के प्रोजेक्ट जमा कराए या एडमिशन का काम देखें ।


अंदरूनी सूत्रों ने जो जानकारी दी उसके अनुसार पंचायत इंस्पेक्टर के बोलने का टोन ऐसा था कि यदि अब स्कूल खुला तो खैर नहीं । एक तरफ सरकार स्कूल खोलने और नियमित कार्य करने का आदेश जारी करती है तो दूसरी तरफ पंचायत इंस्पेक्टर स्कूल को बंद कर देने की बात कह रहे हैं ।


वैसे कोटा एसडीएम की तरफ से अठठाईस तारीख को एक पत्र जारी हुआ है जिसमें विकासखंड के सभी प्रिसिंपलों के साथ ही समस्त स्टाफ की डयूटी ग्रामीणों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने के लिए लगाई गई है । अब सवाल ये उठता है कि जब पूरा स्टाफ गांव में रहेगा तो फिर क्या स्कूलों में ताला लगा दिया जाएगा ? और स्कूलों में जो अभी काम चल रहे हैं उनका क्या होगा ?

इस पूरे मामले में कोटा एसडीएम टी आर भारद्वाज का कहना था – अभी तो पढ़ाई चल नहीं रही है इसलिए डयूटी लगाई गई है लेकिन जो स्टाफ स्कूल के काम में लगे हैं वे अपना काम निपटाने के बाद एक एक करके वैक्सीनेशन के लिए भी लोगों को प्रेरित करें ऐसा कहा गया है पूरा स्कूल बंद नहीं होगा ।

इस संबंध में हमने पंचायत इंस्पेक्टर संजय यादव से बात की तो उनका कहना था -हमने स्कूल बंद करने के लिए नहीं कहा है । स्कूल में कुछ स्टाफ थे तो उन्हें बोला गया कि काम खतम होने के बाद गांव में जाकर लोगों को प्रेरित करें । सीईओ मैडम भी साथ थी । स्कूल बंद करने के लिए नहीं कहा गया है । 

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button