ब्रेकिंग न्यूज़
Home / एजुकेशन / राजधानी में नहीं रूक रहा पीलिया का संक्रमण ।
Sorry, there are no polls available at the moment.

राजधानी में नहीं रूक रहा पीलिया का संक्रमण ।

Advertisement

संख्या साढे चार सौ के करीब पहुंची ।
अब नगर निगम ने डेंगू से भी बचने की दी जानकारी

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 24.04.2020

सुनिल शुक्ला
रायपुर ब्यूरो ।

रायपुर – राजधानी में पीलिया के मरीजों की संख्या 450 के करीब पहुंच गई है। रोज 10 से 15 नए पाजिटिव केस सामने आरहे हैं। हालात ये हैं कि अब शहर के हर कोने से पीलिया के मरीज निकल रहे हैं। निगम और स्वास्थ्य विभाग का अमला प्रभावित क्षेत्रों से लगे इलाकों में पीने के पानी की रैंडम जांच शुरू कर चुका है। चिंताजनक हालात इसलिए हैं क्योंकि जहां भी पानी के 10 सैंपल लिए जा रहे हैं, उनमें से लगभग 3 में ईकोलाई यानी पीलिया फैलाने वाले घातक बैक्टीरिया मिल रहे हैं।


राजधानी में हर साल गर्मियों में पीलिया के मरीज मिलते हैं, लेकिन संख्या छिटपुट ही रहती है। इस बार शहर में 2 अप्रैल को एक इलाके से पीलिया के आधार दर्जन मरीज मिले और लगभग 22 दिन में यह संख्या 50 गुना बढ़ चुकी है। रायपुर के आमापारा से शुरू हुई इस बीमारी के मरीज लगभग 20 वार्डों में मिल गए हैं। आमापारा, कुशालपुर, खोखोपारा, प्रोफेसर कालोनी, संतोषी नगर, बैजनाथपारा, टिकरापारा, कबीर नगर, कोटा, जरवाय, टाटीबंध, सरोना, गोगांव, डंगनिया, सुंदर नगर, चंगोराभाठा, गुढ़ियारी, हीरापुर, श्याम नगर, मोवा, सड्‌ढू, शक्ति नगर आदि इलाकों से लगातार पीलिया के मरीज मिल गए हैं। निगम से जुड़े और जनप्रतिनिधियों का आरोप है कि किसी एक इलाके में पीलिया के ज्यादातर मरीज मिलने पर आशंका रहती है कि उस इलाके में ही कहीं पर कोई लीकेज होने से सप्लाई लाइन से जरिए लोगों के घरों तक गंदा पानी पहुंच रहा है।


इस साल 20 से ज्यादा वार्डों में 450 से ज्यादा मरीजों का मिलने से आशंका बढ़ गई है कि निगम के फिल्टर प्लांट से ही गंदा पानी आ रहा है या फिर मेन राइजिंग लाइन जिससे पूरे शहर की टंकियां भरती है वहीं से गंदा पानी टंकियों में और फिर वहां से लोगों के घरों तक पहुंच रहा है। निगम अफसरों को भी इस बात की आशंका है। इसलिए भाठागांव फिल्टर प्लांट का फिल्टर बेड बदला जा रहा है। प्रोसेसिंग में क्लोरिन की मात्रा बढ़ाई गई है। गुरुवार को नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार ने जोन कमिश्नरों तथा स्वास्थ्य विभाग के संभागीय संयुक्त संचालक डा. सुभाष पांडे, सीएमओ डा. मीरा बघेल के साथ बैठक की। बैठक में पीलिया मरीजों और पीलिया की रोकथाम को लेकर चर्चा की गई।

निगम व स्वास्थ्य विभाग के अफसर प्रभावित इलाकों में पीलिया के मरीजों की जांच कर रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि लक्ष्ण दिखने पर तत्काल मेडिकल कालेज हास्पिटल, जिला अस्पताल या निकट के स्वास्थ्य केन्द्र से संपर्क करें। मरीज को स्वास्थ्य केन्द्र तक जाने में असुविधा हो तो टोल फ्री नंबर 108 पर डायल कर निशुल्क संजीवनी एक्सप्रेस सेवा बुलाई जा सकती है। टोल फ्री नंबर 104 पर संपर्क कर सलाह ली जा सकती है।

महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि – डेंगू को लेकर शहर में ज्यादा सावधानी की जरूरत है। लोग कहीं भी पानी स्टोर करके न रखें। पानी से भरे हुए बर्तनों, टंकियों को ढककर रखें। 

जल विभाग के अध्यक्ष सतनाम पनाग ने दबंग न्यूज लाईव से बात करते हुए कहा कि – बाहर से आने वाले पानी के फिल्टर की जांच की गई है । फिल्टर का बेड बैठ गया था सवा करोड़ का टेंडर हो चुका है । नाले को भी डायवर्ड कर दिया गया है । हम पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं नए केस नहीं आ रहे हैं सब पुराने ही है ।

 

Advertisement

About sanjeev shukla

Avatar
Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

हिन्दु धर्म की पताका पूरे विश्व में फैली है ये सिद्ध हुआ वियतनाम में मिले शिवलिंग से ।

Advertisement पुरातत्व विशेषज्ञों के अनुसार ये 9 वीं शताब्दी का है । ...

error: Content is protected !!