close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / छत्तीसगढ़ तृतीय लिंग समुदाय को मिलेगी ऐसे पहचान ।
.

छत्तीसगढ़ तृतीय लिंग समुदाय को मिलेगी ऐसे पहचान ।

Advertisement

थर्ड जेंडर के 13 उम्मीदवार बनेंगे पुलिस आरक्षक ।

मुख्यमंत्री श्री बघेल और समाज कल्याण मंत्री श्रीमती भेंड़िया ने दी बधाई ।

दबंग न्यूज लाईव
मंगलवार 02.03.2021

 

रायपुर छत्तीसगढ़ में पुलिस आरक्षक भर्ती की परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद प्रदेश ने एक नया इतिहास रच दिया है । इस परिणाम के बाद प्रदेश में पहली बार थर्ड जेंडर के तेरह प्रतियोगियों का चयन इस पद के लिए किया गया है । याने जल्द ही प्रदेश में तेरह थर्ड जेंडर समाज के युवा पुलिस की वर्दी में नजर आएंगे । रायपुर रेंज पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इस परीक्षा में तृतीय लिंग समुदाय के 13 उम्मीदवारों का पुलिस आरक्षक पद पर चयन हुआ है और दो उम्मीदवार वेंटिंग लिस्ट में हैं। रायपुर जिले से 8, धमतरी से एक, राजनांदगांव से 2, बिलासपुर से एक, कोरबा से एक, अंबिकापुर से एक तृतीय लिंग के परीक्षार्थी का चयन पुलिस आरक्षक हेतु किया गया है। 

इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल और समाज कल्याण मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया ने सभी चयनित उम्मीदवारों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने तृतीय लिंग समुदाय को बधाई देते हुए कहा है कि तृतीय लिंग समुदाय के शासकीय नौकरी में आने से छत्तीसगढ़ में नई शुरूआत हुई है। यह बदलते छत्तीसगढ़ की पहचान है, जिसमें सभी वर्गों की उन्नति के लिए समान अवसर मौजूद हैं। उन्होंने उम्मीद जताई है कि चयनित उम्मीदवारों से प्रेरित होकर तृतीय लिंग समुदाय के और भी व्यक्ति पढेंगे और आगे बढ़ेंगे। श्रीमती भेंड़िया ने कहा कि तृतीय लिंग के व्यक्तियों के शासकीय नौकरी में आने से उनके प्रति समाज के नजरिए में एक बड़ा परिवर्तन आएगा।

उल्लेखनीय है कि आरक्षक भर्ती में तृतीय लिंग समुदाय के 97 लोगों ने लिखित परीक्षा दी थी। जिनमें से 23 परीक्षार्थियों का चयन फिजिकल टेस्ट के लिए किया गया था। समाज कल्याण विभाग ने तृतीय लिंग समुदाय को मुख्य धारा में लाने के लिए निःशुल्क कोंचिंग की व्यवस्था की थी। तृतीय लिंग समुदाय के परीक्षार्थियों को प्रशासन एकेडमी में 30 दिन तक लिखित परीक्षा की तैयारी कराई गई थी। इसके पश्चात् राज्य संसाधन एवं पुनर्वास केन्द्र में 120 दिनों तक लिखित और फिजिकल टेस्ट की तैयारी विषय-विशेषज्ञों के माध्यम से कराई गई। यहां उनके निःशुल्क भोजन और ट्रैक सूट की भी व्यवस्था विभाग द्वारा की गई थी। तृतीय लिंग समुदाय ने सहयोग के लिए राज्य सरकार का आभार व्यक्त किया है।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

बेलगहना में स्कूल प्रबंधन समिति की बैठक में स्कूल खुलने को लेकर कई निर्णय ।

Advertisement स्कूल समिति के अध्यक्ष विजय कोल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई ...

error: Content is protected !!