close button
कोरबाकरगी रोडपेंड्रा रोडबिलासपुरभारतमरवाही

Gram sabha me hangama ..गांव के शासकीय भवनों पर कब्जा और मृत व्यक्तियों के पेंशन का मामला ।

बसंतपुर ग्राम पंचायत में लोगों ने उठाया मामला । सचिव ने दिया गोल मोल जवाब ।

दबंग न्यूज लाईव
रविवार 03.10.2021

कृष्ण कुमार पाण्डेय

गौपेम 2 अक्टूबर को हुए ग्राम सभा Gram sabha me hangama में गांव की कई समस्याओं को लेकर मामला उठा । लोगों ने गांव के शासकीय भवनों और दुकानों पर अवैध कब्जे को लेकर शिकायत की वहीं पंचायत के द्वारा पिछले दो तीन वर्षों से किए जा रहे भुगतान को लेकर हंगामा हुआ और फिर पंचायत ने ग्राम सभा में शासकीय भवनों को खाली कराने का प्रस्ताव पारित किया ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बसंतपुर ग्राम पंचायत में पंचायत के द्वारा बनाए गए यात्री प्रतिक्षालय के साथ ही नाई और धोबी के लिए बनाए गए दुकानों पर गांव के कुछ लोगों ने अवैध कब्जा कर लिया है । गा्रम पंचायत के द्वारा नाई और धोबी के लिए बनाए गए दुकान पर एक बैंक के कियोस्क ने कब्जा जमा लिया है तो यात्री प्रतिक्षालय पर भी गांव के ही एक व्यक्ति ने कब्जा कर लिया है ।


2 अक्टूबर को हुए ग्राम सभा में जब इस बारे में हंगामा हुआ तो पंचायत ने एक प्रस्ताव पारित किया करते हुए संबंधित लोगों को नोटिस देने की बात कही । जानकारी ये भी प्राप्त हुई है कि पिछले पांच साल से लोगों ने इस पर कब्जा कर लिया है ।

इस बीच एक सनसनीखेज मामला सामने आया है पंचायत के द्वारा मृतकों के नाम पर पेंशन निकालने का आरोप एक व्यक्ति ने लगाया । जानकारी के अनुसार गांव के ही अरथू , राम बाई और फूलकुंवर की मौत के दो साल बाद भी पंचायत के द्वारा उनके नाम पर पेशन जारी किया जा रहा है । पंचायत ने अब तक क्यों इस गंभीर त्रुटी पर संज्ञान नहीं लिया समझ के परे है ।

ग्राम पंचायत के सचिव अश्वनी पैकरा का इस बारे में कहना था – जब मैं यहां नहीं था तभी से ये सब चल रहा है । नाई की दुकान में नाई है लेकिन धोबी की दुकान को सरपंच के द्वारा दे दिया गया था । यात्री प्रतिक्षालय में भी एक ने अपना सामान रख दिया है । उन लोगों को खाली कराने के लिए नोटिस दी जाएगी । मृतकों के पेंशन जारी होने पर सचिव का कहना था भूल वश ऐसा हो गया है लेकिन अब उनका नाम काट दिया गया है ।

गांधी जी की प्रतिमा के लिए पंचायत के पास जगह नहीं कुर्सी पर टिका दिया गया – पंचायत में गांधी जी की प्रतिमा तो है लेकिन उनके लिए कोई निर्धारित स्थान पंचायत के पास नहीं है और यहीं कारण है कि प्रतिमा यहां वहां रखी रहती है । 2 अक्टूबर को गांधी जंयती के अवसर पर पंचायत को याद आया कि गांधी जी की प्रतिमा पंचायत में है उन्होंने प्रतिमा को उठाया और एक प्लास्टिक की कुर्सी पर रख दिया । प्रतिमा में हर तरफ दाग धब्बे नजर आ रहे हैं । पंचायत को चाहिए कि यदि गांधी जी का सम्मान ही करना है तो उनकी प्रतिमा को अच्छे से रंग रोगन करवा कर कहीं स्थायी रूप से स्थापित करवा दें । इस कदर सम्मान के बहाने अपमान ना करें ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button