close button
करगी रोडकोरबापेंड्रा रोडबिलासपुरभारतमरवाहीरायपुर

Sky Hospital BREAKING: करोना की कमाई ऐसी कि डाक्टर बन गए अपराधी ।

दबाव बना तो दिल्ली एयरपोर्ट पर छोड़ दिया । पुलिस का रही संचालक से पूछताछ ।

दबंग न्यूज लाईव
मंगलवार 21.09.2021

 

बिलासपुर –  करोना को लेकर प्रायवेट अस्पताल (Sky Hospital) ने कैसा गुल खिलाया है ये सभी को पता है । करोना की कमाई देख दो डाक्टरों की नीयत ऐसी पलटी कि वो डाक्टर से अपराधी बन गए और उसी अस्पताल के संचालक को अगवा कर लिया जहां वो डयूटी कर रहे थे । बिलासपुर के राजकिशोर नगर स्थित स्काई हॉस्पिटल (Sky Hospital) के संचालक प्रदीप अग्रवाल का उनके ही हॉस्पिटल में पूर्व में काम करने वाले दो डॉक्टरों और एक नर्सिंग स्टाफ ने अपने दो साथियों के साथ मिल कर कल किडनैप कर लिया। अस्पताल संचालक को अपहरण के बाद यूपी ले जाया गया पर पुलिस के दबाव के बाद 24 घण्टे में ही दिल्ली एयरपोर्ट पर छोड़ कर फरार हो गए हैं।


अस्पताल संचालक के भाई ने उन्हें रायपुर की टिकिट करवा के दी, जिससे वो सुबह 8,20 को रायपुर पहुँचे। वहां से उन्हें बिलासपुर पुलिस अपने साथ ले आयी हैं और घटना के बारे में पूछताछ की जा रही है।


मामले में मिली जानकारी के अनुसार बिलासपुर के राजकिशोर नगर में भवन किराए पर ले कर प्रदीप अग्रवाल (Sky Hospital) अस्पताल का संचालन करते हैं। उन्होंने अपने यहां कोरोना के समय दिल्ली स्थित एक एजेंसी के माध्यम से मुरादाबाद निवासी डॉक्टर शैलेन्द्र मसीह डॉक्टर मोहम्मद आरिफ को रखा था। कोरोना के समय हास्पिटल में मरीजो द्वारा हॉस्पिटल में बिल के रूप में लम्बे-चौड़े रकम को देख कर डॉक्टरों ने तनख्वाह के अलावा बिल में से कमीशन की मांग की। उनका कहना था कि उनकी मेहनत से ही हास्पिटल को इतनी कमाई हुई हैं, लिहाजा उन्हें भी कमाई में हिस्सा मिलना चाहिए।

पर अस्पताल संचालक ने देने से मना कर दिया उसके बाद दोनों पक्षों में विवाद हो गया इसके बाद डॉक्टरों ने सीएमओ को शिकायत करते हुए बताया था कि अस्पताल संचालक उन दवाओं का भी बिल बनवाते हैं जो मरीज को लगी ही नही हैं।

 मोपका के सैलून से किया अपहरणः-लेन देन का विवाद नही सुलझने पर डॉक्टरों ने अस्पताल (Sky Hospital) में ही काम करने वाले एक नर्सिंग स्टाफ और अपने दो अन्य साथियों फिरोज और आलम के माध्यम से अपहरण करने की योजना बनाई। उसके बाद 19 तारीख रविवार की शाम जब प्रदीप अग्रवाल मोपका स्थित सैलून से नीचे उतर रहे थे, तब डॉक्टर शैलेन्द्र डॉक्टर मोहम्मद अस्पताल के ही एक नर्सिंग स्टाफ व फिरोज और आलम ने मिल कर सैलून की सीढ़ियों से ही उन्हें जबरदस्ती उठा लिया और इर्टिंगा गाड़ी में भर लिया।

उनकी गाड़ी को एक आरोपी चलाते चलाते उनके स्काई हॉस्पिटल तक पहुँचा जहो पर उनकी कार को हास्पिटल के बाहर ही छोड़ दिया। उसके बाद अन्य साथियों के साथ उसी गाड़ी में जिसमे डॉक्टर थे, रतनपुर (Sky Hospital) फिर पेंड्रा होते हुए उन्हें यूपी के मुरादाबाद ले जाया गया, जहां के दोनों डॉक्टर मूल निवासी हैं। रात घर वापसी न होने पर घर वालो ने देर रात सरकंडा पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर अपनी कार्यवाही शुरू कर दी है ।

पूरे मामले में एसएसपी दीपक कुमार झा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि – घटना की जानकारी के बाद साईबर सेल के माध्यम से हम पूरे मामले को ट्रेस कर रहे थे और मामले को जल्द सुलझाने में सफल रहे । जल्द ही जांच और पूछताछ के बाद कार्यवाही की जाएगी ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button