close button
शिक्षाकरगी रोडकोरबापेंड्रा रोडबिलासपुरभारतमरवाही

sages -स्वामी आत्मानंद स्कूल में पहले ही साल लगे गंभीर आरोप ।

एडमिशन के लिए डोनेशन के साथ ही तयशुदा सीट से ज्यादा में प्रवेश देने का मामला ।

दबंग न्यूज लाईव
रविवार 20.02.2022

बिलासपुर – प्रदेश सरकार ने बच्चों को शुरूवात से ही अंग्रेजी माध्यम में बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल sages की स्थापना करते हुए हर विकासखंड में एक स्कूल का चयन करते हुए वहां के लिए बजट तय किया तथा स्कूलों को प्रायवेट स्कूलों से बेहतर बनाने के लिए पुरा प्रशासन जुट गया । दुसरे स्कूलों से इन स्कूलों में शिक्षकों को प्रतिनियुक्ति के आधार पर भेजा जाने लगा तो लगा कि सरकार बच्चों की शिक्षा के लिए गंभीरता से विचार कर रही है । और शासन प्रशासन की इसी तत्परता ने पालकों का रूझान इन स्कूलों की तरफ किया और देखते देखते ही इन स्कूलों में तयशुदा सीट भर गई ।


लेकिन इसी बीच बिलासपुर के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल sagesलाला लाजपत राय से एक मामला सामने आया । बिलासपुर में रहने वाले नवनीत सिंह ने यहां के प्राचार्य राजेश गुप्ता पर एडमिशन के लिए डोनेशन की मांग करने का गंभीर आरोप लगाते हुए विधायक शेैलेष पाण्डेय से शिकायत कर दी । विधायक ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों से शिकायत करते हुए जांच की मांग की तो जिला शिक्षा अधिकारी ने एक टीम बनाते हुए जांच करवा दी । जांच टीम ने जब यहां जांच की तो कई चौंकाने वाले मामले सामने आए ।


जांच टीम को पता चला कि स्कूल में तयशुदा सीट से भी अधिक बच्चों को एडमिशन दिया गया है साथ ही जिन बच्चों को एडमिशन दिया गया है उनके दस्तावेज भी आधे अधुरे हैं तथा कोई भी रिकार्ड सहीं ढंग से संधारित नहीं है । जांच टीम ने पुरे मामले का प्रतिवेदन जिला शिक्षा अधिकारी को सौंप दिया । इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने फाईल को शिक्षा विभाग के सचिव के पास आगे की कार्यवाही के लिए भेज दिया है ।

शिक्षा के क्षेत्र में ऐसे भ्रष्टाचार माफी योग्य नहीं होने चाहिए और जो भी अधिकारी कर्मचारी ऐसे भ्रष्टाचार में लिप्त हो उसके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए ।

इस खबर को प्रकाशित करते हुए एक न्यूज वेब पोर्टल ने संबंधित स्कूल की जगह फ्रंट में कोटा के स्वामी आत्मानंद स्कूल की फोटो प्रकाशित कर दी गई है जिससे एक बारगी देखने पर यह लग रहा हेै कि ये शिकायत कोटा के स्वामी आत्मानंद स्कूल की हो ।

खबर में कोटा के डीकेपी आत्मानंद की फोटो

इस संबंध में यहां की पूर्व प्राचार्य अनिता दुबे ने दबंग न्यूज लाईव से बात करते हुए कहा कि – ये तो सरासर गलत बात है मैं अभी हाल ही में वहां से रिलिव हुई हूं । इस तरह से लापरवाही पूर्वक फोटो छापना गलत है । पूरा मामला बिलासपुर के स्कूल का है तो संबंधित खबर पर वहां की फोटो होनी चाहिए कोटा डीकेपी की फोटो से ऐसा लग रहा जैसे पूरा मामला कोटा के स्कूल का हो । मैं इस मामले में संबंधित न्यूज पोर्टल के खिलाफ जिले में उच्च अधिकारियों को अवगत कराते हुए शिकायत करूंगी ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button