ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / रविवारीय स्पेशल SARODA -विश्व का केंद्र बिंदु यहां एक दूसरे को काटती है अक्षांश देशांश रेखा I
.

रविवारीय स्पेशल SARODA -विश्व का केंद्र बिंदु यहां एक दूसरे को काटती है अक्षांश देशांश रेखा I

Advertisement

 पहाड़ों के दामन में बिखरी सुंदरता ,पर्यटन के लिए स्वर्ग से कम अनुभूति नही

 

दबंग न्यूज लाईव
रविवार 02.01.2022

राजेश श्रीवास्तव 

आप सभी सुधी पाठकों को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं । नववर्ष में अगर आप कहीं टूर पर जाने का मन बना रहे हैं तो फिर चले आईए कबीरधाम जिले के बोड़ला विकासखंड जो आकर्षक मनोरम और प्राकृतिक दृश्यों से भरपूर है । इन स्थानों में प्रकृति ने मुक्त हस्त से सुंदरता लुटा रखी है …! आइए जानते हैं कुछ अत्यंत मनोरम स्थलों के बारे में

रानीदहरा वाटरफॉल: बोड़ला विकासखण्ड से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर रायपुर जबलपुर राष्ट्रीय राजमार्ग में बैरख ग्राम में स्थित है जिले का बेहद खूबसूरत जलप्रपात रानीदहरा..! पांच चरणों मे कलकल करते गिरते झरने को देखकर आप प्रसन्न हो उठेंगे ..यहां पर जिले और आसपास के जिलों से लोग पिकनिक मनाने रोज आते हैं , ठंड और बारिश में इन झरनों का नजारा देखते ही बनता है , हालांकि गर्मी के दिनों में इन वाटर फाॅल में पानी कम होता है । जिले वासियों की पहली पसंद रानीदहरा वाटरफॉल है । प्रशासन द्वारा इस स्थल के विकास की दिशा में बहुत कार्य करवाया गया है , जिसमे सीढ़ी , पहुँचमार्ग , पगोड़ा और विश्रामालय आदि की स्थापना की गई है ।


चिल्फ़ीघाटी: छत्तीसगढ़ के काश्मीर की संज्ञा प्राप्त चिल्फी घाटी अपने भयानक घाटियों और घुमावदार सड़कों के लिए प्रसिद्ध है , यहां लगभग दस किलोमीटर के सर्पीले आकार की घाटी है जिसे स्थानीय भाषा मे “ नागमोडी“ कहते हैं । इस मोड़ पर वाहनों की रफ्तार सुस्त हो जाती है , अगर आप बस में सफर करते हैं तो इस मोड़ पर आपको चक्कर आने लगेंगे ।


चिल्फी घाटी मैकल पर्वतमाला की उच्च शिखरों के बीच बसा एक वन्यग्राम है , यहां पर ठंड के दिनों में पारा माईनस डिग्री पर आ जाता है जिससे ओस की बूंदे पेंड पौधों में जम जाती है , इस नजारे को देखने के लिए भी पर्यटक यहां आते रहते हैं ,प्रशासन द्वारा यहां सैलानियों के लिये मड हाउस बनाया गया है । राष्ट्रीय राजमार्ग होने के कारण इस मार्ग पर यातायात का बहुत दबाव होता है तथा खतरनाक घाटी होने के कारण इस घाटी में अत्यंत सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है ।


सरोधा दादर ( विश्व का केंद्र बिंदु ):- चिल्फी से पांच किलोमीटर पूर्व दिशा में स्थित है विश्व के केंद्र बिंदु के रूप में मान्य “ सरोधा दादर “ । दादर का अर्थ होता है पहाड़ों के ऊपर विस्तृत मैदान । लगभग पन्द्रह एकड़ के परिसर में विकसित हो रहा यह स्थान देशी- विदेशी पर्यटकों के लिए बरसों से आकर्षण का केंद्र रहा है । इस स्थान में अक्षांश और देशांश रेखा एक दूसरे को काटती है , अतःयह स्थान विश्व का केंद्र बिंदु है । दिन के ठीक 12 बजे इस जगह में आपकी परछाई जमीन पर नही पड़ती ।

यहां पर्यटन विभाग और वनविभाग द्वारा अलग अलग रेंज के पर्यटक रिसार्ट बने हैं , जहां आप रात्रि विश्राम कर सकते है । इस स्थान से सूर्योदय और सूर्यास्त का नजारा अद्भुत होता है । यहां ठंड के समय देश -विदेश से बहुत पर्यटक आते हैं । यहां आने वाले पर्यटकों में ऑस्ट्रेलिया , इंग्लैंड , कनाडा तथा अन्य देशों के पर्यटक होते हैं । यहां ठहरने के लिए बम्बू हाउस , वुडन हाऊस , रिसार्ट , हट्स आदि सुलभ और सर्वसुलभ व्यवस्थाएं हैं । एक बार आकर आपका दिल चाहेगा कि बार बार यहां आएं …!

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

करगीकला में हॉटल के अंदर गिरी बिजली तीन लोगों की हालत गंभीर ।

Advertisement हॉटल मालिक के साथ मौजूद करगीकला तथा धनरास निवासी भी गंभीर ...

error: Content is protected !!