close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / 12 वर्षीय बच्चे के अपहरणकर्ताओं को 12 घंटे में धर दबोचा पुलिस ने ।
.

12 वर्षीय बच्चे के अपहरणकर्ताओं को 12 घंटे में धर दबोचा पुलिस ने ।

Advertisement

बच्चे को सकुशल रेस्कयू , पांच लाख की फिरौती मांगने वाले किडनैपर पुलिस के चंगुल में ।

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 25.12.2020

 

रायगढ़ – 12 साल के बच्चे के अपहरणकर्ताओं को पुलिस ने 12 घंटे के अंदर दबोच लिया साथ ही बच्चे को सकुशल अपनी सुरक्षा में ले लिया । अपहरणकर्ताओं ने बच्चे के अपहरण के बाद पांच लाख की फिरौती की मांग की थी । प्राप्त जानकारी के अनुसार 24.12.2020 को पुलिस चोैकी रैरूमाखुर्द अन्तर्गत 12 वर्षीय बालक को किडनैप कर आरोपियों द्वारा परिजनों से ₹5,00,000 फिरौती की मांग की गई ।

घटना की सूचना पर तत्काल एक्शन में आए अधिकारीगण तत्काल रात्रि में ही चोैकी रैरूमा पहुंचे । एसपी रायगढ़ चोैकी रैरूमा पहुंचकर एक टीम अपहृत बालक की रेस्क्यू के लिये तैयार किये और उन्हें हथियार से लैस कर जंगल अंदर रवाना किये । पुलिस टीम द्वारा आरोपियों के मंसूबे पर पानी फेर कर बालक का सकुशल बरामद किया गया है । गिरफ्तार आरोपियों में एक आरोपी हाल ही में चोरी के मामले में शामिल था । आरोपियों द्वारा 1 माह पूर्व से किडनैपिंग की फुल प्रूफ प्लानिंग किए हुए थे पर अपराधियों का अंजाम वही हुआ, आरोपीगण अब शीघ्र सलाखों के पीछे अपनी करनी का फल भोगेंगे।

 

जानकारी के अनुसार कल दिनांक 24.12.2020 के शाम पुलिस चोैकी रैरूमा थाना धरमजयगढ़ अंतर्गत ग्राम बरहामड़ा में रहने वाले ’संजू बड़ा’ द्वारा पुलिस चोैकी आकर उसके ’12 वर्षीय बालक राहुल बड़ा’ को अज्ञात आरोपियों द्वारा किडनैप कर मोबाइल में 5,00,000 की फिरौती के लिए कॉल किए जाने की जानकारी दिया गया । चोैकी प्रभारी उपनिरीक्षक जेम्स मिंज तत्काल घटना की जानकारी एस.पी. रायगढ़ संतोष कुमार सिंह को दिए ।

इधर पुलिस कंट्रोल रूम द्वारा पूरे जिले को हाई अलर्ट पर रखकर रात्रि में बच्चे और किडनैपर्स की तलाश में रखा गया था । अधिकारियों द्वारा पीड़ित परिवार से सूक्ष्मता से पूछताछ करने पर बालक के पिता ने बताया कि कुछ माह पूर्व अपनी पुश्तैनी जमीन बेचे हैं जिसमें प्राप्त हुए रुपयों से स्कॉर्पियो वाहन खरीदने की बात अपने जान परिचित से चर्चा किए थे । तब पुलिस टीम की जांच की दिशा फिरौती के लिए किडनैपिंग होने की पुष्टि हुई और जांच टीम द्वारा संदिग्ध आरोपी किस्म के व्यक्तियों की खोजबीन की ओर तेज हुई। इसी दरमियान चोरी मामले में पकड़ा गया संदिग्ध ’अरूण टोप्पो’ ग्राम धौंरागांव बरपाली तथा उसके गांव विकास तिर्की जो राउरकेला (ओडिसा) में बिजली पोल लगाने का काम करता था तीनों कल से गांव में नहीं रहने की जानकारी मिली जिससे इन पर संदेह और गढ़ता गया ।

सुबह पुलिस की एक टीम को सूचना मिली कि जंगल भीतर ’तीन नकाबपोश’ एक बालक का हाथ, पैर बांधकर रखे हुए हैं । सुबह तक पुलिस पार्टी को पुख्ता जानकारी मिल चुकी थी कि हथियारबंद किडनैपर्स बालक को जंगल भीतर रखे हुए हैं । इसी बीच भी संतोष कुमार सिंह चैकी रैरूमा पहुंचे। एडिशनल एसपी से घटनाक्रम व प्रोग्रेस की जानकारी लेकर उनके द्वारा बालक के रेस्क्यू के लिये एडिशनल एसपी के नेतृत्व में टीम तैयार कर अधिकारियों के साथ चैकी में मीटिंग लिये और रेस्क्यू के संबंध में महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये । हथियारों से लैस होकर जंगल रेस्क्यू के लिये रवाना हुई पुलिस पार्टी की योजना यह थी कि किसी भी हालात में बालक की सकुशल बरामदगी होनी चाहिए ।


रात्रि से सुबह करीब 12 घंटे के संघर्ष के बाद ’तीन आरोपीगण-विकास तिर्की, अरूण टोप्पो और रामेश्वर मांझी तीनों निवासी धौंरागांव बरपाली रैरूमा’ पुलिस की पकड़ में थे । बालक को सकुशल बरामद कर उनके परिजनों से मिलाया गया । घटनास्थल पर पुलिस को ’03 मोबाइल, 03 चाकू, मोटरसाइकिल और बालक की साइकिल’ मिली है । 

आरोपीगण को थाना धरमजयगढ़ के ’अपराध क्रमांक 247/2020 धारा 364(।) भादवि’ में गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा जा रहा है। आज दोपहर पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी रायगढ़ द्वारा अपहृत बालक के सकुल बरामदगी पर पुलिस महानिदेशक एवं रेंज आईजी द्वारा रायगढ़ पुलिस को बधाई देने एवं रेंज आईजी श्री दीपांशु काबरा जी द्वारा रेस्क्यू टीम का हिस्सा रहे अधिकारी/र्मचारियों को नकद 30,000 रूपये ईनाम स्वरूप दिए जाने की जानकारी दिया गया है

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

बेलगहना में स्कूल प्रबंधन समिति की बैठक में स्कूल खुलने को लेकर कई निर्णय ।

Advertisement स्कूल समिति के अध्यक्ष विजय कोल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई ...

error: Content is protected !!