दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 02.06.2023

बिलासपुर /कोटा – आदिवासियों के साथ वन विकास निगम के भैंसाझार नर्सरी में रात भर बंधक बनाकर मारपीट वाली घटना में जल्द पटाक्षेप होते नहीं दिख रहा है । 27 मई की शाम को वन विकास निगम के कर्मचारियों ने नकटाबांधा से भालू के शिकार करने के संदेह में तीन लोगों को उठाया और शिवतराई के अपने रेस्ट हाउस ले आएI

इसके बाद जब विभाग के अधिकारियों को ये पता चला कि गांव के लोग शिवतराई रेस्ट हाउस पहुंच रहे हैं तो तीनों संदिग्धों को विभाग के कर्मचारी भैंंसाझार नर्सरी ले गए जहां वन विकास निगम के अनुसार सामान्य पूछताछ की गई और पीड़ितों के अनुसार उन्हें रात भर मारा पीटा गया ।


इस मामले की सबसे पहले खबर दबंग न्यूज लाईव ने लगाई थी उसके बाद कल आदिवासी समाज ने अपने उपर हुए इस घटना को लेकर रतनपुर थाने का घेराव किया था जहां से उन्हें एक सप्ताह में कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया था ।


आदिवास समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष दीनू नेताम और अन्य लोगों ने आज रायपुर में राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम से ज्ञापन देते हुए सारी घटना उल्लेख किया है तथा दोषी कर्मचारियों पर कार्यवाही की मांग की है । ज्ञापन में वन विकास निगम के कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए कहा गया है कि बिना आधार तथा सबूतों के आदिवासी समाज के तीन लोगों के साथ रात भर मारपीट की गई है जिससे उन्हें गंभीर चोटे आई हैं ।


छ.ग. सर्व आदिवासी समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष दीनू नेताम ने दबंग न्यूज लाईव से बात करते हुए कहा कि – घटना के बाद हमने रतनपुर थाने में दोषी कर्मचारियों के खिलाफ अपराध दर्ज करने का आवेदन दिया है जहां से एक हफते का समय मांगा गया है और एक हफते में जांच करने के बाद कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया है । हमने आज महामहिम राज्यपाल और प्रदेश के मुख्यमंत्री को भी ज्ञापन सौंप कर दोषीयों पर कार्यवाही की मांग की है ।