close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / 40 दिनों से लापता नाबालिग लड़की के सुराग पता लगाने में पंडरिया पुलिस रही नाकाम ।
.

40 दिनों से लापता नाबालिग लड़की के सुराग पता लगाने में पंडरिया पुलिस रही नाकाम ।

Advertisement

आला अधिकारियों के दरवाजे पर फरियाद लेकर दर-दर भटक रहे हैं माता-पिता ।

 

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 22.01.2021

 

केसरी नंदन तिवारी
कबीरधाम ब्यूरो

पंडरिया – पिछले चालिस दिनों से एक नाबालिग लड़की अपने घर से गायब है । पीड़ित परिवार ने थाने में रिपोर्ट करा दी है और रिपोर्ट लिखे भी एक माह से ज्यादा हो गया लेकिन पुलिस बेफिक्र है , बेखबर है और संवेदनहीन है । पीड़ित परिवार स्थानीय थानों से लेकर जिले के उच्च अधिकारियों तक अपनी गुहार लगा चुका है लेकिन बच्ची का कोई पता अभी तक नहीं लग पाया है । और हद तो ये हो गई कि जब भी स्थानीय पुलिस बच्ची की खोज में परिवार के साथ कहीं गई तो आने जाने का पूरा खर्च भी पीड़ित परिवार से कराया गया ।शायद संवेदनहीनता की ऐसी बानगी आपने कहीं और ना देखी हो जैसे पंडरिया पुलिस इस मामले में दिखा रही है ।

ये घटना है पंडरिया की प्राप्त जानकारी के अनुसार पंडरिया के एक मोहल्ले से एक नाबालिग बच्ची को कोई भगा ले गया पीड़ित परिवार को संदेह मोहल्ले के ही एक लड़के पर है जिसकी शिकायत उन्होंने उसी दिन यानी 15 दिसम्बर 2020 को पंडरिया थाने में दर्ज करवाई और उसके बाद से अब तक सिर्फ थाने , अधिकारी और जहां जहां पता चलता है वहां वहां ये परिवार घुम रहा है । इस परिवार की ना आंखों में ना नींद है ना ही चैन है और हो भी कैसे जब उनकी बच्ची का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया ।

परेशान माता पिता मंडला रीवा एमपी के अनेक जिलों में परिजनों द्वारा अपने ही खर्च में वहन किया गया नाबालिक के पतासाजी के लिए माता-पिता दर-दर भटक रहे हैं और जहां भी सूचना मिल रही है कि यहां हो सकता है त्वरित परिजनों के द्वारा जाकर पता लगाया जाता है इस पूरे मामले में पुलिस से ज्यादा घरवाले सीमावर्ती प्रदेश और जिलों का खुद ही दौरा करने को मजबूर हैं पंडरिया पुलिस प्रशासन और आला अधिकारी हाथ पर हाथ धरे हुए बैठे हैं नाबालिक बच्ची कहां है किस हाल में है जिंदा भी है कि मर गई है यही सोच सोच कर परिजनों का हाल बेहाल है । मामले को आज 40 दिवस हो गये है परिजनों को मोहल्ले में ही रहने वाले एक लड़के पर संदेह है । परिवार वालों का ये भी कहना है कि उक्त युवक पिछले छह माह से युवती को परेशान और छेड़ छाड करता था और लड़का भी घटना दिनांक 15 दिसम्बर से लापता है ।


यदि पुलिस लड़के के परिजनों से कड़ाई से पूछताछ करती है तो गुमशुदा नाबालिक लड़की का पता लगाया जा सकता है लेकिन पंडरिया पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है परिजनों से बात भी करने में कतराते हुए नजर आ रही है और परिजन जब भी थाना जाते हैं घिसा पिटा जवाब पंडरिया टीआई का रहता है जांच चल रहा है जैसे ही खबर मिलता है हम आपको सूचित कर देंगे 40 दिनों से लापता युवती का अब तक पंडरिया पुलिस एक भी सुराग नहीं ढूंढ पाई है ।

हमने इस बारे में पंडरिया एसडीओपी नरेन्द्र बेंताल से भी बात की तो उनका कहना था – ये काफी गंभीर मामला है और हम अपनी पुरी कोशिश कर रहे हैं । उच्च अधिकारियों के संज्ञान में भी ये मामला है और हम सतत इस पूरे मामले की मार्किग कर रहे हैं बस एक क्लू हाथ लग जाए । पीड़ित परिवार ने जिस युवक पर संदेह व्यक्त किया है उनके परिवार से भी पूछताछ की गई है लेकिन कुछ पता नहीं चला है ।

पंडरिया विधायक ममता चंद्राकर से भी हमने इस संवेदनशील मामले में बात की तो उनका कहना था -पूरा मामला मेरे संज्ञान में है मैंने खुद भी उच्च अधिकारियों से बात की है और वो भी इस मामले में गंभीर हैं । मेरा पुरा प्रयास जल्द जल्द बच्ची के सकुशल वापसी पर होगा मैं स्वयं पीड़ित परिवार से मिल चुकी हूं । पुलिस अपनी तरफ से हर संभव मदद कर रही है और उम्मीद है जल्द ही अच्छी खबर मिलेगी ।

इस गंभीर और संवेदनशील मामले में हमारी पूरी संवेदना पीड़ित परिवार के साथ है और भरोषा है कि पुलिस जल्द ही बच्ची को उसके परिवार के सुपुर्द सकुशल करेगी ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

बेलगहना में स्कूल प्रबंधन समिति की बैठक में स्कूल खुलने को लेकर कई निर्णय ।

Advertisement स्कूल समिति के अध्यक्ष विजय कोल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई ...

error: Content is protected !!