close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / कोटा से लेकर खरगहनी तक बनने वाली विवादास्पद पीएमजेएसवाय सड़क की कहानी ।
.

कोटा से लेकर खरगहनी तक बनने वाली विवादास्पद पीएमजेएसवाय सड़क की कहानी ।

Advertisement

कोटा जनपद सीईओ ने भी लिखा था सात दिवस में जवाब देने पीएमजेएसवाय के एसडीओ को पत्र ।

जनपद सदस्य ने घटिया निर्माण का लगाया था आरोप , अधिकारियों ने कहा सब ठीक है बारिश के बाद और ठीक कर दिया जाएगा ।

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 13.08.2021

करगीरोड कोटा कोटा से लेकर खरगहनी तक लगभग साढे सात किमी लंबाई की सड़क पीएमजेएसवाय के तहत निर्माणाधीन है । सड़क की गुणवत्ता को लेकर ग्रामीणों ने कई बार शिकायत थी । कोटा जनपद पंचायत में 24 जुलाई को हुई सामान्य सभा की बैठक में जनपद सदस्य ने इस रोड की गुणवत्ता को लेकर हंगामा कर दिया और जांच की मांग की ।

जनपद पंचायत सीईओ का पत्र ।

इसके बाद 24 जुलाई को ही जनपद पंचायत सीईओ ने एक पत्र पीएमजेएसवाय के एसडीओ को लिखा कि उक्त सड़क की जांच करवा कर सात दिनों में जवाब देवें जिससे आगामी बैठक में जनपद सदस्य को जानकारी दी जा सके ।

पीएमजेएसवाय का पत्र

इसके बाद 10 अगस्त को पीएमजेएसवाय की तरफ से किसी और शिकायत पत्र का उल्लेख करते हुए बिलासपुर कलेक्टर को चार बिन्दुओं का एक पत्र प्रेषित किया गया है जिसमें उन्होंने पहले ही बिन्दु पर काम की गुणवत्ता को बेहतर बताते हुए डामरीकरण को मानक अनुरूप लगाने की बात कही ।

फाईल फोटो ।

इसके अलावा अन्य बिन्दुओं में विभाग ने माना है कि चूंकि इस रास्ते में भारी आवागमन है साथ ही सड़क निर्माण के लिए लगे वाहनों की आवाजाही होती है इसलिए कहीं कहीं सड़क का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है जिसे बारिश के बाद सुधार लिया जाएगा साथ ही सुदृढ बनाने की बात कही है।

फाईल फोटो ।

बहरहाल कोटा के चारों तरफ बन रही सभी पीएमजेएसवाय की सड़कों का क्या हाल है और सड़के किस हालत में ये देखना हो तो किसी भी दिशा में निकला जा सकता है । विभाग के इस जवाब से ग्राम वासी और जनपद सदस्य कितने संतुष्ट होते हैं ये नहीं पता ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

Kota Breking – अब रूकेगी ये ट्रेन ….आंदोलन का असर लेकिन अभी मिली है आंशिक सफलता ।

Advertisement   करगीरोड कोटा शुक्रवार 24.09.2021 – नगर संघर्ष समिति के द्वारा ...

error: Content is protected !!