close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / कोरोना वायरस के संक्रमण बढ़ने से लोगों की बढ़ी चिंता , पंडरिया में भी कोविड- हॉस्पिटल बनाने की उठ रही है मांग।
.

कोरोना वायरस के संक्रमण बढ़ने से लोगों की बढ़ी चिंता , पंडरिया में भी कोविड- हॉस्पिटल बनाने की उठ रही है मांग।

Advertisement

जिला हॉस्पिटल कवर्धा व महाराजपुर कोविड- सेंटर अस्पतालों में बेड की कमी

दबंग न्यूज लाईव
गुरूवार 22.04.2021

केशरी नंदन तिवारी, कवर्धा

पंडरिया –कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच जिला हॉस्पिटल कवर्धा व महाराजपुर कोविड- सेंटर अस्पतालों में बेड की कमी हो रही है, हालात बिगड़ते जा रही हैं। कोविड संक्रमितों की बढ़ती संख्या के चलते आइसोलेशन के लिए जगह कम पड़ने लगी है लोग प्राइवेट हॉस्पिटलों का कर रहे हैं रुक ऐसे में विशेषकर गरीब लोगों की चिंताएं बढ़ गई है जिसके चलते पंडरिया ब्लॉक के चारों तरफ से ब्लॉक मुख्यालय में कोविड-हॉस्पिटल या आइसोलेशन सेंटर बनने के लिए ब्लॉक के बुद्धिजीवी वर्ग व आम नागरिक मांग कर रहे हैं उन्हें शासन व प्रशासन के आदेश का इंतजार है I

नगर व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड संक्रमितों की बढ़ती संख्या के चलते स्वास्थ्य सेवाएं हांफने लगी हैं लोग परेशान हैं और कहीं राहत मिलती नजर नहीं आ रही है, लोगों का कहना है कि हमारे ब्लॉक के अंदर एक कोविड-हॉस्पिटल का निर्माण होना अति आवश्यक है अगर यह व्यवस्था नहीं है तो कम से कम आइसोलेशन सेंटर का तो निर्माण किया जाना उचित होगा पूरे क्षेत्र में सोशल मीडिया के माध्यम से लोग अपनी मांग क्षेत्रीय विधायिका ममता चंद्राकर और कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर साथ ही जिला दंडाधिकारी से अलग-अलग तरीके से अपनी मांग पहुंचाने में लगे हुए हैं I

 ग्रामीण जनों का कहना है कि वनांचल क्षेत्र से जिला मुख्यालय की दूरी लगभग 60 से 70 किलोमीटर है जिसके चलते गरीब लोग आना जाना नहीं कर सकते अगर ब्लॉक मुख्यालय के अंदर कोविड हॉस्पिटल या आइसोलेशन सेंटर बना दिया जाता है तो लोगों को बड़ी राहत होगी और उनके परिजन उनके संपर्क में रहेंगे जिससे उनका भरपूर ख्याल रखा जा सकेगा लोगों का कहना है कि पंडरिया हॉस्पिटल से लगा हुआ कन्या छात्रावास फिर हाल अभी खाली है अगर शासन-प्रशासन कोविड हॉस्पिटल या आइसोलेशन सेंटर की व्यवस्था वहां कर देती है तो पंडरिया ब्लाक के लोगों के लिए सुविधा हो जाएगी और जिनके परिजन जो कि कोरोना से पीड़ित हैं उनका बेहतर ख्याल रखा जा सकता है I

आइसोलेशन वार्ड बनाकर ऑक्सीजन सिलेंडर साथ में दवाओं की पर्याप्त व्यवस्था करने से कम से कम ऑक्सीजन की कमी से होने वाली अव्यवस्था,एवम कवर्धा या अन्य फैसिलिटी में जगह उपलब्ध नही होने की स्थिति में पंडरिया में कुछ समय तक मरीजो को भर्ति रखकर उनकी जान बचाई जा सकती है गरीब व आम जन के मांग के अनुरूप अगर यह व्यवस्था कर दी जाती है तो पंडरिया ब्लाक के निवासियों के लिए यह किसी वरदान से कम नहीं होगा।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

प्रदेश में स्कूल संचालन को लेकर हर दिन नए आदेश । अब छठवीं से ग्यारहवीं तक नहीं लगेगी कक्षाएं ।

Advertisement फिर पहली से पांचवीं की कक्षाओं का संचालन क्यों ? करोना ...

error: Content is protected !!