close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / जिसे लाईटों के बारे में कुछ मालूम ही नहीं उसे बना दिया जांच दल का सदस्य ।
.

जिसे लाईटों के बारे में कुछ मालूम ही नहीं उसे बना दिया जांच दल का सदस्य ।

Advertisement

पिपरतराई में एलईडी जाचं में पहुंची टीम की कार्यवाही पर उठने  लगे सवाल ।

जांच कम लिपा पोती के उपाय पर ज्यादा चर्चा , जांच के बाद सभी लोग घंटों जयस्तभं नाका चोैक पर रणनीति बनाते रहे ।

जनपद के मुंह लगा एक पंचायत का सचिव मामले को सेट करने में लगा रहा ।

दबंग न्यूज लाईव

गुरूवार 25.02.2021

 

करगीरोड कोटा जनपद पंचायत कोटा के अंतर्गत आने वाले पिपरतराई पंचायत के एलईडी घोटाले की जांच के लिए आखिरकार पंचायत के द्वारा बनाई गई जांच टीम पहुंच गई । जनपद द्वारा बनाई गई चार सदस्यी जांच टीम में ऐसे लोग भी जांच अधिकारी थे जिन्हें इस मामले में रत्तीभर का भी ज्ञान नहीं था और ये सब वे अपने मुंह से खुद ही कह रहे हैं ।

 

कल पिपरतराई पंचायत एलईडी लाईट घोटाले के लिए एक जांच टीम पंचायत पहुंची तो पंचायत भवन में लोगों का जमावड़ा लग गया जबकि होना ये था कि जांच टीम आराम से अपनी जांच करती और उतने ही लोग अंदर होते जितने से काम था लेकिन यहां जांच के नाम पर जो खाना पूर्ति की गई उससे यहीं लगता है कि जांच कम और जांच से आरोपियों को बचाने के प्वांईट ज्यादा बनाए गए । 

गांव के ही लोगों ने वीडियो बनाया और दबंग न्यूज लाईव तक पहुंचाया कि पंचायत में लाखों की हेराफेरी करके लगाई गई घटिया लाईट की जांच किस तरह से हो रही है । यहां बैठे जांच टीम के एक सदस्य इंजिनियर कुर्रे जांच में सहयोग करने और दस्तावेजों की जांच की बजाय लोगों से गप्प लगाते हुए नजर आ रहे हैं जिसमें वे कहते हैं कि मुझे तो लाईट वाईट के बारे में कुछ नहीं पता । अब ऐसे शानदार अधिकारी जांच टीम में होंगे जो जांच के दौरान ही अपने आप पर सवाल करें तो समझा जा सकता है जांच कैसे हुई होगी ।

पंचायत भवन में बैठ कर लोग पूरे मामले को कैसे दबाया जाए और निपटाया जाए इस पर ही लगे रहे अंत में जांच टीम ने जनपद पंचायत सदस्य और अन्य लोगों से कागज में दस्तखत करवाए कि जांच हो गई है और ये कहा कि अब सारी बातों का प्रतिवेदन बना कर जमा किया जाएगा । सूत्रों ने ये भी बताया कि जांच करने के बाद जब टीम कोटा के नाका चोैक पहुंची तो वहां दो पंचायत के सचिव उनका इंतजार कर रहे थे फिर इनके बीच लगभग आधे घंटे तक बातचीत होती रही । अब बात किस मामले को लेकर थी ये पता नहीं चल पाया ।

 

 

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

निंदनिय – पत्रकार रितेश गुप्ता पर वन विभाग के कार्यालय में रेत माफिया का हमला । पुलिस ने भी किया गाली गलौच ।

Advertisement शिकायत करने थाने गए पत्रकार को पुलिस ने भी धमका कर ...

error: Content is protected !!