ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / एटीआर के विवादित रेंजर संदीप सिंह निलंबित ।

एटीआर के विवादित रेंजर संदीप सिंह निलंबित ।

Advertisement

वनमंत्री ने सदन में विधायक धर्मजीत सिंह के बयान के बाद कहा ।
अवैध शिकार के मामले में निवासखार के ग्रामीणों से हुआ था विवाद ।

 

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 28.08.2020

 

रायपुर मुंगेली जिले में स्थित अचानकमार टाइगर रिजर्व कें आश्रित गाँव निवासखार में फॉरेस्ट अमले और ग्रामीणों के बीच टकराव का मामला धर्मजीत सिंह ने सदन में उठाया। विधायक धर्मजीत सिंह स्थिति को बताते हुए बेहद भावुक हो गए, उन्होंने ग्रामीणों की दयनीय स्थिति का जिक्र करते हुए कहा- वहाँ ना सासंद निधि से काम हो रहा है, ना विधायक और ना ही कोई अन्य निधि.. कैसे काम करेंगे लोग.. आप चले जाइए उन गाँवों में.. बस परिचय मत बताईएगा कि आप मंत्री हैं.. बीस रुपए का काम करते भी मिल गए तो मैं इस्तीफा दे दूँगा ।

फाईल फोटो

पूरा मामला एटीआर में उस समय का है जब अवैध शिकार करने के आरोपियों की जांच करने वन विभाग की टीम निवास खार पहुंची थी और वहां से संदेह के आधार पर कुछ लोगों को गाड़ी मे ंबिठा के लाने लगी इसके बाद गांव के लोगों ने वन विभाग की टीम को घेर लिया था और मार पीट की थी । इस मार पीट के दौरान वनरक्षक अमर सिंह और बसंत मानिकपुरी को चोट लगी थी । रेंजर संदीप सिंह से उठक बैठक करवाई गई थी जबकि उनके एक पैर में राड लगा हुआ था । इस घटना से बच बचाकर वन विभाग की टीम वापस लौटी थी दुसरे दिन पुलिस फोर्स भी गांव गई थी लेकिन उन्हें भी गांव वालों ने भगा दिया था ।


इस पूरे मामले को बताते हुए वन मंत्री ने कहा कि – मैं आपकी पीड़ा को समझ रहा हूँ लेकिन वन विभाग के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि रेंजर को उठक बैठक कराया गया .. इसका वीडियो है..वन विभाग की विश्वसनीयता कहाँ रह जाएगी .. ऐसे में कैसे काम होगा ।

लेकिन विधायक धर्मजीत सिंह ने इस्तीफे की चुनौती दे दी, और ग्रामीणो को बेबस बताते हुए कहा- जानकी बाई जिनकी उम्र 69 साल थी, और राम सिंह जिनकी उम्र 70 साल थी, जेल से उनके छूटने के एक हफ्ते के भीतर उनकी मौत हो गई.. फॉरेस्टर गए और माँ बहनों को बाल पकड़ कर खींचने लगे, मारपीट करने लगे.. ।


धर्मजीत सिंह ने आगे कहा – आप को बता दूँ वहाँ के सर्किट हाउस में शराब की पार्टी होती है, दस हजार रुपए में चीतल का शिकार होता है.. आपको लगता है कि ऐसे अधिकारी रहेंगे तो धर्मजीत दब जाएगा तो यह मत सोचिए। मैं अपनी जनता के लिए सड़क पर धरना दूँगा मैं इसी सदन के भीतर धरना दूँगा I

धर्मजीत सिंह के तेवरों को विधायक अजय चंद्राकर और बृजमोहन अग्रवाल का भी समर्थन मिल गया। तब वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने घोषणा की “मैं रेंजर संदीप सिंह को निलंबित करने की घोषणा करता हूँ.. प्रकरण की जाँच पीसीसीएफ वाइल्डलाइफ करेंगे..और मैं व्यक्तिगत रुप से मिलकर स्थितियों को स्पष्ट कर दूँगा ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Avatar
Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

’शिक्षक भर्ती २०१९ में उच्च न्यायालय का बड़ा फैसला,

Advertisement युक्तियुक्त समय पर शासन को भर्ती प्रक्रिया पूर्ण करने हेतु किया ...

error: Content is protected !!