close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / कोटा जनपद का हाल – सालों हो गए शौचालय बने लेकिन नहीं मिली राशी और महिनों हो गए आरटीआई का जवाब नहीं।
.

कोटा जनपद का हाल – सालों हो गए शौचालय बने लेकिन नहीं मिली राशी और महिनों हो गए आरटीआई का जवाब नहीं।

Advertisement

सोनपूरी ग्राम पंचायत में सब घालमेल । आधे अधुरे शौचालय लेकिन हो गया ओडीएफ ।
दो माह निकल जाने के बाद भी आरटीआई का जवाब नहीं ।

दबंग न्यूज लाईव
बुधवार 30.09.2020

 

करगीरोड कोटा -कोटा जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत कैसे ओडीएफ हुए हैं और उनकी हकीकत क्या है ये आज सोनपुरी के परेशान लोगों ने दबंग न्यूज लाईव को बताया । वे अपनी समस्या लेकर जनपद पंचायत पहुंचे थे ।


ग्रामीणों का कहना था कि पंचायत ने उनसे शौचालय ये कहकर बनवा लिए कि आप अभी शौचालय बना लो इसकी राशि बारह हजार रूपए आपके एकाउंट में आ जाएगी लेकिन आज सालों हो गए पंचायत ने शौचालय का एक रूपए भी नहीं दिया ।

सोनपुरी से आए हितग्राहियों का कहना था कि कई के यहां तो शौचालय ही नहीं बना है । जिसके यहां बना है उनमें से कई के यहां का छप्पर उड़ गया । पंचायत ने कुछ लोगों को पांच सौ से लेकर हजार रूपए तक दिए और अब पल्ला झाड़ लिया है ।

 


ग्रामीणों के अनुसार उन्होंने ग्राम पंचायत में इस बारे में पूरी जानकारी के लिए 19 जुलाई को आरटीआई भी लगाया हेै लेकिन पंचायत ने समय निकल जाने के बाद भी कोई जवाब नहीं दिया । हद तो ये हो गई है कि प्रथम अपील में ग्रामीणों ने 24 अगस्त को जनपद में प्रथम अपीलीय अधिकारी के समक्ष भी विधिवत आवेदन किया लेकिन उसमे ं भी अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है ।


अधिकतर पंचायतों में शौचालय की राशि अभी तक हितग्राहियों को नहीं मिल पाई है जबकि पंचायतों को इस राशि का भुगतान हो गया है । देखना है कि सोनपुरी के लोगों की समस्या कब दुर हो पाती है । और सूचना के अधिकार कानून का मजाक बनाने वालों पर क्या कार्यवाही होती है ।

पंचायत के सचिव मानसिंह गौतम से बात करने पर उनका कहना था कि वो एसबीएम की बैठक में हैं इसलिए बाद में कुछ भी बता पाउंगा ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

रेलवे ने अंडर ब्रिज बनाया है कि नहर समझ से परे है अच्छा होता रेलवे यहां बोट की भी व्यवस्था कर देता ।

Advertisement दो दिन के पानी ने रेलवे के सभी अंडर ब्रिज को ...

error: Content is protected !!