करगी रोडकोरबा

कोटा धान खरीदी केन्द्र में किसानों से जमकर लूट ।

धान से धनवान होते प्रबंधक और मालामाल होते अधिकारी ।
हमाली के नाम पर किसानों से अवैध उगाही ।

दबंग न्यूज लाईव
शुक्रवार 21.01.2022

करगीरोड कोटा -सूत्रों के अनुसार कोटा विकासखंड के अलग अलग धान खरीदी केन्द्रों में धान बेचने आए किसानों से धान मंडियों में अवैध रूप से पैसों की उगाही की जा रही है । धान तौलने के नाम पर किसानों से डेढ से दौ सौ और पांच पांच सौ रूपए तक वसूल किए जा रहे हैं जबकि सरकार के द्वारा धान तौलाई के लिए हमालों को प्रति क्विंटल ग्यारह रूपए की राशी दी जा रही है । इसके बावजूद वहां के प्रबंधक से मिली भगत करके हमाल किसानों से अवैध वसुली को अंजाम दे रहे हैं ।


लेकिन ये देखने का समय यहां भ्रमण कर रहे अधिकारियों को नहीं है । अधिकारी जाते हैं और क्या देख कर आते हैं समझ से परे हैं । धान मंडियों की काली कमाई कोयले से भी काली हो चुकी है । सार्टेज के नाम पर , बिना धान के पर्ची में धान खरीदी चढ़ जाना ,किसानों से तौलाई के लिए अवैध ढंग से पैसों का लेन देन , तौलाई में गड़बड़ी ऐसे कई मामले हैं जो धान मंडियों में हमालों से लेकर प्रबंधक और अधिकारियों को लाल किए हुए है ।


कोटा विकासखंड में ऐसे ऐसे प्रबंधक हैं जो करोड़ों में अपना साम्राज्य फैला कर रखे हैं । एक सोसायटी प्रबंधक ने तो बकायदा सेटिंग करके अपनी जगह दुसरे को रख दिया है और बाहरी अफरा तफरी का पूरा कारनामा खुद करने में व्यस्त है ।


अधिकारी भी इस प्रबंधक की हर बात जानते हैं चाहे बैंक से किसानों के पैसों के लेन देन का मामला हो , फर्जी ढंग से किसानों के नाम पर पैसे आहरण का मामला हो लेकिन अधिकारी भी इस प्रबंधक के सारे कारनामों को ढक कर रखते हैं क्योंकि मलाई में सभी का हिस्सा जो रहता है ।

कोटा की सभी धान मंडियो में किसानों के धान की खरीदी की जा रही है लेकिन अधिकतर धान मंडियों में इतना झोल है कि बाहर से ही दिखाई देने लगता है लेकिन अधिकारियों के द्वारा आज तक किसी मंडी पर कोई कार्यवाही नहीं की गई ।

सूत्रों के द्वारा ये भी पता चला है कि धान मंडियों में बड़ी मात्रा डीओ का भी खेल खेला जा रहा है । खबर की अगली कड़ी में डीओ  की बड़ी खबर जल्द ही आपके सामने होगी ।

sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
Back to top button