ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / कोटा डेम मर्डर केस की सुलझी गुत्थी । दोस्त दोस्त ना रहें ….।
.

कोटा डेम मर्डर केस की सुलझी गुत्थी । दोस्त दोस्त ना रहें ….।

Advertisement

दोस्तों ने ही ले ली दोस्त की जान , कोरी डेम आए थे घुमने विवाद के बाद कर दी हत्या ।

दबंग न्यूज लाईव
गुरूवार 10.02.2022

कोटा – कोटा के कोरी डेम में कल मिली अधजली लाश चुनौती बनकर पुलिस के सामने आ गई थी । पुलिस के लिए सबसे पहली चुनौती ये थी कि लाश की पहचान की जाए क्योंकि बिना लाश की पहचान के मामले की तह तक जाना असंभव था ।


लेकिन कोटा पुलिस ने इस अधजली लाश मर्डर केस में जिस तरह से अपनी जांच शुरू की उसने 24 घंटे के अंदर ही सारे राज से पर्दा उठा दिया और पुलिस ने एक अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने में सफलता प्राप्त कर ली । घटना स्थल पर प्राप्त मृतक के कपड़े ,टोपी आदि को पुलिस ने सोशल मीडिया ग्रुप में वायरल किया था जिसके बाद काठाकोनी के अजय रात्रे ने पुलिस से सम्पर्क किया और सारे सामान को अपने बेटे का बताया । लाश की शिनाख्त होते ही परत दर परत इस अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझती गई और पकड़ में आए मृतक के दो दोस्त।


कोटा पुलिस को कल वन विभाग में चौकीदारी करने वाले एक चौकीदार से जानकारी प्राप्त हुई थी कि कोटा कोरी डेम के पास एक युवक की अधजली लाश है । घटना के बाद कोटा पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और अपनी जाचं शुरू की ।

घटना स्थल पर पुलिस को अधजली लाश के साथ ही एक पत्थर जिसमें खून लगा हुआ था, खाली डिस्पोजल गिलास, खाली शराब की शीशी, पानी पाउच, चाकू व लाल काले रंग की ऊनी टोपी प्राप्त हुई । पुलिस ने मृतक के पास पड़े लाल काले रंग के ऊनी टोपी, शव का फोटो एवं मृतक के चप्पल का फोटो को व्हाट्सएप के जरिए सभी ग्रुपों में शेयर किया गया। इसके बाद काठाकोनी निवासी अजय रात्रे ने इन कपड़ों के आधार पर मृतक की पहचान अपने बेटे के रूप में की ।

पुलिस अजय रात्रे को लेकर घटना स्थल पर पहुंची और सारी जानकारी इकट्ठी की तो एक चौंकाने वाला मामला सामने आया । अजय रात्रे ने बताया कि उनका बेटा दो फरवरी को अपने दो दोस्तों के साथ कोटा डेम घुमने निकला था उसके बाद से ही वापस नहीं आया है । इसके बाद कोटा पुलिस ने मृतक के दोनों दोस्तों को गिरफतार किया तो पता चला कि दोनों अपराधिक पृष्ठभूमि के हैं और सकरी थाने में इन पर कई केस दर्ज हैं ।

दोनों दोस्तों ने बताया कि वे लोग दो फरवरी को घूमने के लिए औरापानी बांध एवं कोरी डैम गए थे। कोरी डैम के पास जंगल में शराब पीने के दौरान हुए विवाद में गुस्से में आकर उन दोनों दोस्तों ने मृतक के गले में चाकू से एवं सिर में पत्थर से वार कर हत्या कर दिए, सबूत को नष्ट करने एवं मृतक का पहचान छिपाने के लिए वहां पड़े सूखे पत्तों से एवं साथ में रखें कपड़ों को उसके ऊपर डाल कर माचिस से जला दिए।

कोटा थाना प्रभारी दिनेश चंद्रा ने बताया कि – मौके पर मिले साक्ष्य के आधार पर एवं वहां तक जाने वाले रास्ते में लगे सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन करने एवं वहां पड़े शराब की शीशी के आधार पर आसपास के शराब दुकान में सीसीटीवी चेक किया गया । मामले में अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया है ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

भगवान विश्वकर्मा जयंति पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित ।

Advertisement विधायक भी रहे मौजूद , विभिन्न योजनाओं के बांटे  चेक । ...

error: Content is protected !!