close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / kawardha kand – कवर्धा कांड के बाद कद बड़ा करने की कवायद में जुटे सभी दलों के नेताजी ।
.

kawardha kand – कवर्धा कांड के बाद कद बड़ा करने की कवायद में जुटे सभी दलों के नेताजी ।

Advertisement

हाईकोर्ट के वकीलों के जाँच दल ने बताई प्रशासन की नाकामी
500 गाड़ियों के काफिले के साथ आए और 1500 महिलाओं को बांट दिए पांच पांच हजार के चेक ।

खुदा जाने क्या वजन है मेरा उनकी निगाहों में
सुना है वो लोगों को नजरों से तौल देते हैं ..

राजेश श्रीवास्तव
कवर्धा ब्यूरो

कबीरधाम में गांधी जयंती के दूसरे दिन एक दंगा हुआ । बात इतनी बिगड़ी कि आज भी जिला संवेदनशील घोषित है । जाति , धर्म , सम्प्रदाय ,पक्ष -विपक्ष , नेता , अभिनेता सभी इस पर अपनी राय दे रहे हैं । शासन अपना तंत्र मजबूत बता रहा है वहीं विपक्ष शासन प्रशासन की दमनात्मक नीतियों को कोष रहा है । महीने भर से मृतप्राय और बन्द पड़े जिले में लोगों का हाल बेहाल है ।


दंगों में गिरफ्तार किए गए हिन्दू संगठन के सभी सदस्यों की रिहाई से जगह जगह उनका स्वागत किया गया । कर्फ्यू के कारण कवर्धा नगर में गिरफ्तार हुए कार्यकर्ताओं के एक साथ प्रवेश नही करने देने पर सांसद सन्तोष पांडेय और विहिप के कार्यकर्ता बैरियर में ही धरने पर बैठ गए । अंततः पांच पांच की संख्या में कार्यकर्ता नगर में प्रवेश कर सके ,
इस दंगे पर छत्तीसगढ़ के उच्च न्यायालय ने स्वतः संज्ञान में लेते हुए हाईकोर्ट के बारह वरिष्ठ वकीलों की एक टीम को कवर्धा दंगे की जांच के लिए भेजा था ।

जांचकर्ताओं की टीम ने पूरे नगर में घूमकर अपनी रिपोर्ट तैयार की जिसमे उन्होंने प्रशासन के अनेक विभाग खासकर पुलिस विभाग की गम्भीर लापरवाही का उल्लेख किया है ।

हिन्दू संगठनों के गिरफ्तार किए गए कार्यकर्ताओं के ऊपर लगे धारा को खारिज कर उनको रिहा किये जाने के सम्बंध में जोगी कांग्रेस के नेता कार्यकर्तागण कुंडा से पंडरिया पदयात्रा करने वाले थे,परन्तु भारी पुलिस बल ने उनको कुंडा में यात्रा शुरू होते ही रोक दिया , इससे गुस्साए कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए वहीं धरने पर बैठ गए ।


कवर्धा मामले में विहिप, बजरंग दल ,आर एस एस के अलावा अन्य आनुषंगिक हिन्दू संगठनों के तेवर उग्र हैं । भाजपा के बड़े नेताओं की उदासीनता और निष्क्रियता पर संगठन के कार्यकर्ताओं में मायूसी है , उनका कहना है कि बड़े नेताओं की सही पहल होती तो इन स्थितियों का नगर वासियों को सामना करना नही पड़ता । भाजपा के विजय शर्मा , कैलास चन्द्रवँशी सहित पांच अन्य नेताओं ने अपनी गिरफ्तारी दी है उन पर शासकीय कार्य मे बाधा डालने का आरोप है । पुलिस द्वारा डायरी पेश नही किये जाने के कारण उनकी जमानत आज होगी ।

इन सब बातों से इतर छत्तीसगढ़ शासन के वन ,आवास, पर्यावरण मंत्री तथा कवर्धा विधायक मोहम्मद अकबर अपने विधानसभा क्षेत्र में अपनी छवि चमकाने और शक्ति प्रदर्शन के बहाने लोगों के बीच सघन दौरा कर रहे हैं । उनके समक्ष अनेक लोग कांग्रेस में प्रवेश भी कर रहे हैं । कल सोमवार को उन्होंने लगभग 500 गाड़ियों के काफिले के साथ क्षेत्र का सघन दौरा कर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया ।

उन्होंने अपने स्वैच्छानुदान मद से जिले की लगभग 1500 विधवा महिलाओं को पांच पांच हजार की राशि का चौक वितरण कलेक्ट्रेट के सभागार में किया । वे ग्राम कुसुमघटा में आयोजित श्रीमद भागवत ज्ञान कथा महोत्सव में शामिल हुए , पूजा अर्चना कर उन्होंने क्षेत्र में शांति बहाली की प्रार्थना की और आशीर्वाद प्राप्त किया । उनके इस दौरे का भाजपा विहिप संघ और हिन्दू संगठनों ने विरोध करते हुए उनके काफिले को काला झंडा दिखाया और उनके खिलाफ नारे लगाए । कवर्धा में जो हुआ उसके बाद इससे जुड़े सभी दल और राजनेता अपना कद बढ़ाने की कवायद में जुटे हुए हैं ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

ब्रेकिंग – तेंदुवे का दुसरा शिकार भी फेल कहीं तेंदुवा हिंसक ना हो जाए ।

Advertisement कल रात फिर गांव में घुसकर बछड़े पर किया हमला । ...

error: Content is protected !!