ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / कोरिया वन मंडल में उपजा नया विवाद,,प्रभारी डिप्टी रेंजर के प्रभार पर राजनीति हुई हाई प्रोफाईल

कोरिया वन मंडल में उपजा नया विवाद,,प्रभारी डिप्टी रेंजर के प्रभार पर राजनीति हुई हाई प्रोफाईल

Advertisement

प्रधान मुख्य वन संरक्षक द्वारा किए सिंगल ऑर्डर ट्रांसफर पर भी लग रहा सवालिया निशान

 

दबंग न्यूज लाईव
बुधवार 29.04.2020

बैकुण्ठपुर –सरगुजा वन वृत्त के कोरिया वनमंडल में डिप्टी रेंजर को प्रभारी रेंजर से प्रभार लेने में पेंच फंस गया है। पदस्थ रेंजर अपने से अधीनस्थ डिप्टी को प्रभार देने को राजी नहीं है। उनके अनुसार यह नियमविरूद्ध है। वहीं डिप्टी रेंजर जो जल्दी चार्ज लेने के लिए आतुर है,आपको बता दें कि जब सेन खुद कुछ माह पहले मनेंद्रगढ़ प्रभारी रेंजर थे तब उन्होनें उनके बडे अधिकारी रेंजर को चार्ज देने में 3 महिने लगा दिए थे। अब सबकी नजर उनके चार्ज लेने को लेकर टिकी हुई है।

इस संबंध में खडगवां रेंजर आर एस मार्को का कहना है कि नियम में रेंजर के होते हुए डिप्टी रेंजर को प्रभार देना कही लिखा ही नहीं है। ऐसे में नियम विरूद्ध प्रभार नहीं दिया जा सकता है।

वहीं अचानक सिंगल ट्रांसफर आर्डर पर वन मंत्री मोहम्मद अकबर की ऑनलाइन प्रेस कांफेंस में उनसे पूछा गया था कि पीसीसीएफ के द्वारा डिप्टी रेंजरों को रेंजर के प्रभार पर बिठाया जा रहा है, जबकि यह पद गेस्टेड है। 8वी और 10वी पास इस पद पर कैसे बिठाया जा सकता है तब उन्होनें कहा कि राज्य सरकार 69 पद रेंजर के निकालने वाली है, वे डिप्टी रेंजर की नियुक्ति नहीं कर सकते, जब उनसे खडगवां के सिंगल आर्डर पर सवाल किया गया तो उन्होनें मामले में जांच करने की बात कही है।

मनेन्द्रगढ वनमंडल से कोरिया वनमंडल मेें खडगवां रेंज के प्रभारी रेंजर हीरालाल सेन जल्द से जल्द प्रभार लेने के लिए एडी चोटी का जोर लगा रहे है। वहीं इस मामले ने भी तूल पकड लिया है,चूंकि एक माह रिटायरमेंट को बचे खडगवां के रेंजर आरएस मार्को ने अपने अधीनस्थ को चार्ज देना नियमविरूद्ध बता चार्ज देने से साफ इंकार कर दिया है, हलांकि डीएफओ ने हीरालाल सेन को एकतरफा चार्ज लेने की अनुमति प्रदान कर दी है। 
डीएफओ जहां डिप्टी रेंजर वहां
राज्य शासन ने मनेन्द्रगढ वनमंडल में पदस्थ डीएफओ राजेश चंदेले को कोरिया वनमंडल भेज दिया। जबकि मनेन्द्रगढ में डीएफओ विवेकानंद झा ने पदभार संभाला और मनेन्द्रगढ में प्रभार संभाले डीएफओ श्री विवेकानंद झा ने तमाम कार्यो की जांच शुरू कर दी। उधर, पंचायत चुनाव खत्म होते ही डिप्टी रेंजर हीरालाल सेन का सिंगल आर्डर पीसीसीएफ  द्वारा किया जाता है वहां भी वहां जहां डीएफओ राजेश चंदेले के प्रभाव वाले खडगवां रेंज में कर दिया गया। अब राजेश चंदेले और हीरालाल सेन की जुगल जोडी एकबार फिर साथ है, परन्तु चार्ज नहीं मिलने से हीरालाल सेन परेशान है। उनके खडगवां स्थानांतरण को लेकर चारों ओर कई सवाल खडे हो रहे है।

पौने चार करोड से ज्यादा का भुगतान
सूचना के अधिकार ने मिली जानकारी के अनुसार मनेन्द्रगढ वनमंडल में डीएफओ चंदेले के रहते हुए रेगूलर मद में प्रभारी रेंजर को 2 करोड 12 लाख रू से ज्यादा की राशि जारी की गई, जबकि कैम्पा मद से 1 करोड 64 लाख रू से ज्यादा की राशि जारी हुई। मिट्टी के कार्य के साथ बारबेट वायर फेंसिग और सीमेंट पोल में काफी शिकायते सामने आई। बताया गया कि फेसिंग वायर और पोल जिस संख्या में लगाए जाने थे वो अभी तक नहीं पहुंच पाए है। जबकि भुगतान पूरा कर दिया गया है।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Avatar
Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

कांग्रेस जिलाध्यक्ष के बेटे द्वारा महिला को भगा ले जाने के मामले में आया नया मोड़ ।

Advertisement महिला का विडियो हुआ वायरल कि मैं अपने से गई मोहनीश ...

error: Content is protected !!