close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / पशु चोरी की आशंका पर लोगों ने कर दी एक की हत्या और पांच को गंभीर रूप से घायल ।112 पहुंची जरूर लेकिन नहीं रोक पाई घटना ।
.

पशु चोरी की आशंका पर लोगों ने कर दी एक की हत्या और पांच को गंभीर रूप से घायल ।112 पहुंची जरूर लेकिन नहीं रोक पाई घटना ।

Advertisement

जनपद सदस्य , सरपंच और पूर्व सरपंच पर अपराध दर्ज ।
लेकिन पुलिस की विज्ञप्ती से पुलिस की लापरवाही पर उठते कई सवाल ?

दबंग न्यूज लाईव
शनिवार 29.05.2021

जीपीएम – गौरेला थाना क्षेत्र के साल्हेघोरी छीर हट्टी में 26 तारीख से पशु चोरी का आरोप लगाकर गांव के लोग पांच छह लोगों से मारपीट करते रहे , पशु चोरी की आशंका पर इन लोगों को गांव के सामुदायिक भवन में बंद कर दिया गया , वहां भी मारपीट हुई । 26 तारीख से चल रहे इस बवाल की जानकारी पुलिस की 112 को मिली तो सुबह आठ बजे 108 गांव पहुंची लेकिन उसको ना कोई बंधक मिला ना आरोपी मिले या ये कहें कि इस घटना को लेकर कोई भी तथ्य 112 को नहीं मिले ।

इसके बाद 27 तारीख को 11 बजे पुलिस को जानकारी मिली की कुछ लोग गांव में पशु चोरी की आशंका में कुछ लोगों से मारपीट कर रहे हैं । पुलिस फिर घटना स्थल पर पहुंची तो वहां से गांव के कुछ आरोपी भाग गए थे कुछ को पुलिस ने गिरफ्तार किया और बंधकों को छुड़ाया लेकिन तब तक एक की मोैत हो चुकी थी और बाकी गंभीर रूप से घायल थे । जिसे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती करवाया । पुलिस द्वारा जारी विज्ञप्ती से मोटा मोटा यही समझ आ रहा है । उस पर भी पुलिस इस मामले में अपनी लापरवाही और समय पर कार्यवाही नहीं कर पाने को छुपाते हुए अपनी तत्परता बता रही है ।


पुलिस ने इस मामले में जनपद सदस्य सुखराम भैना निवासी डाहीबहरा , सरपंच पुरूषोत्म बैगा निवासी साल्हेघोरी , पूर्व सरपंच कृष्णा कुमार बैगा निवासी बेंदरा पानी , सौरभ कुमार बैगा बोइरडाँड़ चुक्तिपानी , धरम सिंह बैगा निवासी छीर हट्टी, . रामकरण यादव पिता शंकर लाल यादव निवासी धनोली को गिरफ्तार कर लिया है । लेकिन यदि जब गांव में सुबह आठ बजे 112 पहुंच जाती है तो भी ये घटना घटित होती है तो फिर समझा जा सकता है कि 112 कितनी लापरवाह थी यदि थोड़ी छानबीन और पूछताछ कर लेती और वहां रूक जाती तो शायद ये घटना ना होती ।

पुरा मामला अब पुलिस विज्ञप्ती से समझिए जैसा विज्ञप्ती जारी किया गया है वैसा ही आपके सामने है – दिनांक 27.05.2021 को सुबह 11 बजे ’पुलिस अधीक्षक श्री सूरज सिंह परिहार’ को मोबाईल पर सूचना मिली कि साल्हेघोरी छीर हट्टी मे भैंसा चोरी की शंका पर ग्रामीण लोग बाहरी कुछ लोगों को मारपीट कर रहें हैं। सूचना पर पुलिस अधीक्षक महोदय ने तत्काल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौरेला एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गौरेला के नेतृत्व में थाना प्रभारी गौरेला, पेण्ड्रा एवं 112 को दलबल सहित मौके पर पहुचने का निर्देश दिए।

साल्हेघोरी छीर हट्टी में 20-25 लोग सामुदायिक भवन के पास झुंड बनाये थे जो पुलिस की गाड़ियों को देखकर जंगल की ओर भाग गये घटनास्थल पहुंचने पर छह व्यक्ति घायल अवस्था मे थे जिनमे से एक गंभीर था जिन्हे तत्काल 112 एवं थाने के वाहन के माध्यम से सेनेटोरियम अस्पताल गौरेला रवाना किया गया।अस्पताल में पहुंचने के बाद सूरत बंजारा की मृत्यु हो गई।

चश्मदीद गवाह लोकेश बंजारा से पूछताछ पर पाया गया कि दिनांक 26.05.21 के सुबह अशोक पनिका खैरझिटी का इसे बोला कि चार नग भैसा छिनपानी से छिरहटटी घाट ग्राम साल्हेघोरी तक भैंसा चढा दो 400 रूपये देंगे तो यह और इसका साथी विकास यादव ग्राम भमराहा का साथ में गये और रात्रि मे 4 नग भैंस लेकर हांकने लगे तो दो किमी0 आगे रास्ते मे मोटर सायकल से जनपद सदस्य सुखराम मिला और भैंसो का रसीद मांगा तो रसीद नही है बताने पर वहां से चला गया ।

छिरहटटी घाट मे पहुंचने पर जनपद सदस्य सुखराम 10-12 लोग जो गांव के थे के साथ मिला कहने लगा कि तुम लोग भैसा चोरी करके ले जा रहे हो और जबरदस्ती रोक लिया। सब मिलकर लात घुसा डंडा से दोनो को मारपीट करने लगे और वे सभी दोनो को उसी गांव के सामुदायिक भवन मे लेकर आये और मारपीट करने लगे और अपने घर वालो को बुलाओ कहने लगे। तब यह मोबाईल से अपने भाई मुकेश व चाचा सूरत बंजारा को घटना कि जानकारी दिया। उसके बाद भी लगातार मारपीट करते रहे। फिर दोनों को सामुदायिक भवन के कमरे मे बंद करके बाहर से ताला लगा दिये और गोविंद बैगा के लडके को बाहर रखवाली के लिये रख दिये ।

सुबह तड़के जब इसका चाचा व भाई ढूढते हुये सामुदायिक भवन पहुंचे तब ये लोग आवाज सुनकर इनके पास आये उस समय गोविंद बैगा का लडका वहां नही था। सूरत बंजारा ताला तोडकर हमे बाहर निकाले और पानी पिलाये तब यह अपने चाचा सूरत को बताया कि जनपद सदस्य सुखराम ,सरपंच पुरूषोत्तम ,पूर्व सरपंच कृष्ण कुमार बैंगा ,सौरभ कुमार, धरम सिंह बैगा,रामकरण यादव व अन्य लगभग 20 लोग हम लोगो को भैंसा चोर बोलकर मां बहन का अश्लील गाली गलौच कर हाथ मे डंडा लेकर जान से मारने की धमकी देकर मारपीट किये है और लालजी इसका मोबाईल रख लिया है। तब यह विकास, ओमप्रकाश, सूरत और मुकेश सभी लालजी के घर मोबाईल मांगने गये।

लालजी अपने घर के पास फिर से उन्ही लोगो के साथ 10-12 लोगो को बुला लिया और पांचो के साथ मारपीट करने लगे मारते मारते पांचो को सामुदायिक भवन के पास लेकर आये और वहां पर लगातार मारपीट करते रहे जो आता था दो डंडा मारकर चला जाता था यह सिलसिला सुबह लगभग 10 बजे तक चला ।

इसी बीच लगभग सुबह 8.00 बजे लगभग डायल 112 की पुलिस गाडी गांव मे पहुंची तो थी पर गांव वाले सरपंच के कहने पर इनको टेकरी तरफ छुपा दिये और सरपंच 112 वाले को गुमराह कर दिया जिससे 112 पुलिस गाडी वापस हो गई। फिर इन लोगो को मारते मारते सामुदायिक भवन तरफ लाये और गोरे बैगा के घर के पास लाकर फिर से गांव के लगभग 20-22 व्यक्ति मारपीट करने लगे सभी लोग हाथ मे डंडा लकडी लाठी रखे हुये थे। कुछ लोग हाथ मुक्का लात से मार रहे थे तो गांव वालो को बताये कि अशोक पनिका भैंसो को जामकछार छोडने बोला था तो गांव वाले बोले कि अशोक को फोन करके बुलाओ तो अशोक को फोन करके बुलाये तब अशोक आया तो उसे भी गांव वाले मारे ।

सूरत बंजारा मारपीट से बेहोश हो गया था फिर भी उसे मारपीट कर रहे थे उसके बाद करीब 10.30 बजे पुलिस गाडी पहुंची तो सब भाग गए । पुलिस बिना समय गंवाए सभी को लेकर गौरेला अस्पताल आये। अस्पताल मे डॉक्टर के चेक करने पर सूरत बंजारा मृत पाया गया। इस तरह से जनपद सदस्य सुखराम भैना ,सरपंच पुरूषोत्तम बैगा, पूर्व सरपंच कृष्ण् कुमार बैगा, रामकरण यादव जो कडा पहना हुआ था, सौरभ कुमार बैगा, धरम बैगा, लालजी ,गोविंद बैगा का लडका, चुंगी बैगा व अन्य 20 लोग द्वारा मारपीट करके चोट और मृत्यु कारित करने की घटना पर से थाना गौरला में ’अप0 क्र 183/21 धारा 302, 323, 201, 147, 148, 149, 294, 506बी, 341, 342 भादवि’ आरोपीगण के विरुद्ध कायम कर विवेचना में लिया गया।

घटना के आहतों का इलाज कराया जाकर थाना गौरला की टीम द्वारा घटना के मुख्य आरोपियों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर मारपीट करने स्वीकार करना पाए जाने से आरोपियों की शिनाख्ती कराकर आरोपियों से घटना में प्रयुक्त लाठी डंडा जप्त किया गया। आरोपी 1. जनपद सदस्य सुखराम भैना पितानंदू भैना निवासी डाहीबहरा 2. सरपंच पुरूषोत्म बैगा पिता श्री राम बैगा निवासी साल्हेघोरी 3. पूर्व सरपंच कृष्णा कुमार बैगा पिता सुखराम बैगा निवासी बेंदरा पानी 4. सौरभ कुमार बैगा पिता बुधवारू बैगा बोइरडाँड़ चुक्तिपानी 5. धरम सिंह बैगा पिता सुखराम बैगा निवासी छीर हट्टी 6. रामकरण यादव पिता शंकर लाल यादव निवासी धनोली को गिरफ्तार किया गया है।

’पुलिस अधीक्षक जीपीएम’ ने कहा है कि सूचना मिलते ही समय से कार्यवाही करके अन्य बंधक लोगों की जान बचाई जा सकी है।घटना में शामिल अन्य आरोपियों की भी पहचान एवं पतासाजी की जा रही है। जल्द ही सभी आरोपी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

प्रदेश में स्कूल संचालन को लेकर हर दिन नए आदेश । अब छठवीं से ग्यारहवीं तक नहीं लगेगी कक्षाएं ।

Advertisement फिर पहली से पांचवीं की कक्षाओं का संचालन क्यों ? करोना ...

error: Content is protected !!