close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / नीलकंठ आश्रम दुल्लापुर बाजार के अलौकिक संत प्रेमदास जी महाराज का अवसान
.

नीलकंठ आश्रम दुल्लापुर बाजार के अलौकिक संत प्रेमदास जी महाराज का अवसान

Advertisement

 

पंडरिया /दुल्लापुर बाजार

नीलकंठ आश्रम दुल्लापुर बाजार के अलौकिक संत प्रेमदास जी महाराज कल अनन्त चतुर्दशी को देवलोक गमन कर गए । जिससे नगर और आसपास के क्षेत्र के उनके भक्तों में मातम छा गया । उनके देवलोक गमन की सूचना सुनते ही क्षेत्र के साधु संतों सहित बड़ी संख्या में भक्तजन नीलकंठ आश्रम में पहुंच गए । सायं 6 बजे आश्रम में ही उन्हें मुखाग्नि दी गई । संत प्रेमदास बहुत मधुर स्वभाब के मृदुभाषी हंसमुख और सिद्ध सन्त थे । उनके भक्तों के बीच उनकी अलौकिक सिद्धियों की चर्चा होती रही ।


लगभग 35 वर्ष पूर्व पंडरिया के ग्राम विसेसरा में एक वृहद रुद्र यज्ञ के आयोजन में दूधाधारी मठ से दीक्षित महराज श्री का आगमन हुआ । यज्ञ के पश्चात वे अकेले भ्रमण करते हुए ग्राम दुल्लापुर बाजार में नदी के तट पर आम के बाग में एक वृक्ष के कोटर में कुछ समय व्यतीत किया । ग्रामवासियों ने तो पहले उन पर शंका की पर बाद में लोगो ने उनके ज्ञान को जाना और मदद कर उनके लिए एक छोटी सी कुटिया बनवा दी । सन्त जी उस कुटिया में माता काली की स्थापना करके जप ध्यान पूजा पाठ में लगे रहते थे । पंडरिया सहित आसपास से लोग आश्रम में आने जाने लगे । उन्होंने बहुत मेहनत से आश्रम के आसपास फलदार वृक्ष लगाए और मन्दिर तथा श्रद्धालुओं के लिए कक्ष बनवाये । आगर नदी के तट पर यह आश्रम दिल को असीम शांति से भर देता है ।


सन्त जी अद्भुत और अलौकिक शक्तियों के सिद्धहस्त थे । उनके आश्रम में किसी भी समय कितने भी भक्त पहुंचते एक छोटे से बर्तन में बना भोजन सभी के लिए पर्याप्त हो जाता था । न ही बचता न ही कम होता । उनके आश्रम में बिना मौसम की फल सब्जियां और अनेकों प्रकार की मिठाइयां न जाने कहाँ से उपलब्द्ध होता था जिसे वे अपने भक्तों को बहुत आग्रह से खिलाते थे । सन्त जी माता काली के परम भक्त थे और घण्टों साधना करते हुए अन्तर्मुखी हो जाया करते थे , उनके अनेक भक्तों ने उन्हें कई बार माता काली से वार्तालाप करते सुना है । परकाया प्रवेश सिद्धि को सन्त जी विशेष रूप से बताया करते थे ।

उनकी अलौकिक शक्तियों का स्मरण उनके भक्तों के दिलो में बसा है । उनके भक्तों ने महराज श्री की स्मृति में आश्रम में उनकी मूर्ति स्थापना और भव्य विकास की योजना बनाई है । प्रशांत राजपूत जिला महामंत्री कांग्रेस कमेटी कबीरध , तुलाराम महराज , राजू महराज जलेश्वर धाम , शिशुपाल चंद्रवंशी , परमानन्द महराज , मुनिराम , दाऊ , प्रमोद क्षत्री लीलापुर , अमरसिंह ठाकुर , राजेश श्रीवास्तव , लोकेश सिंह, मनोहर भोई आदि उनके भक्तों ने महराज श्री को विनम्र श्रद्धांजलि देते हुए उनकी दिव्यात्मा को शांति प्रदान करने हेतु ईश्वर से कामना की है ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

सकोला तहसील के निर्माण को लेकर जनप्रतिनिधियों ने सचिव छ.ग.शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन को भेजा माँग पत्र ।

Advertisement जनप्रतिनिधियों ने दावा आपत्ति जीपीएम कलेक्टर को पेश की दबंग न्यूज ...

error: Content is protected !!