close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / बिलासपुर / sarpanch sachiv vivad – पंचायत सचिव को कमरे में बंद कर मारपीट – जब सरपंच पति के साथ उपसरपंच भी हो तो पावर आ ही जाता है ।
.

sarpanch sachiv vivad – पंचायत सचिव को कमरे में बंद कर मारपीट – जब सरपंच पति के साथ उपसरपंच भी हो तो पावर आ ही जाता है ।

Advertisement

सचिव संघ में नाराजगी कहा उचित कार्यवाही नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन ।

 

कृष्ण कुमार पाण्डेय

पेण्ड्रा – यदि पत्नि सरपंच हो और स्वयं उपसरपंच तो फिर पंचायत में किसी और की कैसे चलेगी । ऐसे में तो सारा पंचायत अपना और पंचायती राज भी अपना । फिर जो चाहे मन में आए करते रहिए कौन रोकने टोकने वाला है । और जब ये भाव मन में आ जाए तो फिर पावर आते देर थोड़ी लगती है । फिर आप पंचायत के सचिव को भी पंचायत कार्यालय में बंद कर मारपीट कर सकते हैं ।

 

ऐसा ही मामला पेण्ड्रा जनपद के पथगवां ग्राम पंचायत से सामने आया है । यहां के सरपंच पति और स्वयं उपसरपंच रामावतार सोनवानी पर आरोप है कि उन्होंने अपने यहां के सचिव शरद गुप्ता के साथ पंचायत कार्यालय में कमरे में बंद कर मारपीट की और गाली गलौच की । लोगों ने बीच बचाव किया तब जाकर सचिव की जान छुटी और वहां से निकलकर सचिव सीधे थाने पहुंच गए ।

Gram panchayt Sachiv

पूरा मामला पेण्ड्रा के पथगंवा का है और घटना 14 तारीख की बताई जा रही है । इस समय पंचायत के सचिव शरद गुप्ता अपने कार्यालय में बैठकर काम कर रहे थे उस समय इनके पास गांव के भी कुछ लोग बैठे हुए थे । इसी समय पंचायत के उपसरपंच और सरपंच पति रामअवतार सोनवानी गुस्से में पहुंचे और सचिव से गाली गलौच करते हुए कहने लगे कि तुम मेरा चेक नहीं काट रहे हो और आरटीआई का भी जवाब दे देते हो तुम अपने आप को समझते क्या हो । इसके बाद उपसरपंच सचिव को एक कमरे में बंद करके हाथापाई और मारपीट करने लगता है । गांव के कुछ लोग बीच बचाव करते हुए सचिव को बचाते हैं ।


सचिव इसके बाद सीधे पेण्ड्रा थाने पहुंचता है और पूरे मामले की शिकायत करता है । जानकारी के मुताबिक इस समय उपसरपंच पहले से ही थाने पहुंच गया रहता है । सचिव की शिकायत पर पुलिस उपसरपंच के खिलाफ 294 और 323 पर मामला दर्ज कर लेती है ।

सचिव शरद गुप्ता ने दबंग न्यूज लाईव से आपबीती बताते हुए कहा कि -मैं हमेशा की तरह अपने पंचायत में बैठ कर कार्य कर रहा था उसी समय उपसरपंच आया और गाली गलौज करते हुए मारपीट किया । उपसरपंच नियम विरूद्ध कार्य करने का दबाव डालते रहता है तथा चेक काटने कहता है ये भी कहता है कि तुम सब आरटीआई का जवाब क्यों देते हो तुम मेरे नौकर हो ।

सचिव संघ के अध्यक्ष शंभू मरावी का इस पूरे मामले में कहना था – सचिव के साथ घटी घटना निंदनिय है यदि ऐसा होते रहा तो कैसे काम चलेगा । आज जनपद में सचिव संघ की बैठक रखी गई है यदि उचित कार्यवाही नहीं होती है तो विरोध प्रदर्शन और आंदोलन किया जाएगा ।

देखना होगा उपसरपंच और सचिव की ये लड़ाई क्या रूख अख्तियार करती है । पुलिस ने इस मामले में मारपीट की सामान्य धाराओं पर अपराध दर्ज किया है जबकि जानकारों का कहना है कि इस मामले में सरकारी काम में बाधा का अपराध भी दर्ज होना चाहिए था ।

 

 

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

ब्रेकिंग – तेंदुवे का दुसरा शिकार भी फेल कहीं तेंदुवा हिंसक ना हो जाए ।

Advertisement कल रात फिर गांव में घुसकर बछड़े पर किया हमला । ...

error: Content is protected !!