ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / मरवाही को नगर पंचायत बनाने की घोषणा के बाद क्षेत्र के लोगों की अलग अलग प्रतिक्रियाएं ।

मरवाही को नगर पंचायत बनाने की घोषणा के बाद क्षेत्र के लोगों की अलग अलग प्रतिक्रियाएं ।

Advertisement

भाजपा और जनता कांग्रेस ने कहा रोजगार होंगे कम ।

दबंग न्यूज लाईव
सोमवार 10.08.2020

 

मरवाही मरवाही में आने वाले दिनों में उपचुनाव होने हैं । अभी तक ये तय नहीं हुआ है कि कब होंगे । लेकिन सभी राजनैतिक पार्टीयां अपने अपने स्तर पर चुनावी मोड में हैं । इन सबमें सत्ताधारी दल कांग्रेस सबसे आगे है । हर दिन यहां के लिए कुछ नई नई योजनाएं और कार्यक्रम तैयार कर रहा है जिससे यहां अपनी उपस्थिति मजबूत कर सके । ऐसी ही एक और पहल हुई विश्व आदिवासी दिवस के दिन जब प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने मरवाही ग्राम पंचायत को नगर पंचायत बनाने की घोषणा की । उनके इस घोषणा के बाद भाजपा तथा जनता कांग्रेस के नेता इस बात से चिंतित हैं कि ग्राम पंचायत से नगर पंचायत बनने के बाद मरवाही में रोजगार के अवसर कम हो जाएंगे । अभी मनरेगा के तहत गांव के लोगों को रोजगार उपलब्ध हो जाता है यदि मरवाही नगर पंचायत बन गया तो क्या होगा ?

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के जनप्रतिनिधियों और हितग्राहियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए क्षेत्र की मांगों एवं समस्याओं की जानकारी ली और त्वरित रूप से क्षेत्र के लिए अनेक विकास कार्यों की स्वीकृति प्रदान की जिसमें ग्राम पंचायत मरवाही को नगर पंचायत बनाने की घोषणा भी किया गया है ग्राम पंचायत मरवाही एक ग्रामीण क्षेत्र है जहां नगर पंचायत बनने के बाद यहां रोजगार गारंटी योजना से मिलने वाले लाभ और कार्य से ग्रामीण मजदूर लोग वंचित हो जाएंगे जिससे लोगों के ऊपर बहुत ही बुरा प्रभाव पड़ेगा गरीब मजदूर वर्ग के लोगों का रोजगार छिन जाएगा मरवाही ग्राम के लिए नगर पंचायत की घोषणा और गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के विकास कार्यों की स्वीकृति के लिए मुख्यमंत्री जी का यह निर्णय बहुत ही स्वागत योग्य है लेकिन नगर पंचायत बनने के बाद भी मरवाही ग्राम ग्रामीण क्षेत्र रहेगा ऐसे में रोजगार गारंटी योजना का लाभ मरवाही की जनताओं को मिल पाना मुश्किल होगा इसलिए मुख्यमंत्री जी को इस ओर भी ध्यान देना चाहिए की नगर पंचायत के नियम में संशोधित कर यह भी लागू करना चाहिए कि मरवाही ग्राम की जनता ओं को रोजगार गारंटी योजना का पूरा लाभ मिल सके

आयुष मिश्रा- जनपद सदस्य भाजपा महामंत्री मरवाही- मरवाही ग्रामपंचायत की 70ःजनता गरीब है जनता मनरेगा से अपना भरण पोषण करती है, नगरपंचायत बनने पर उनके पास रोजगार का संकट पैदा होगा पहले सरकार को उनके भरण पोषण की व्यवस्था करनी चाहिए। नगरपंचायत की घोषणा स्वागत योग्य है अगर महीने भर में अमलीजामा पहनाया जाये अन्यथा यह सिर्फ चुनावी घोषणा लग रही और कुछ नही।

वीरेंद्र बघेल प्रदेश प्रवक्ता (JCC )– नगर पंचायत बनने से एक प्रमुख नुकसान यह है कि मरवाही अब नगरी क्षेत्र होगा तथा ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के द्वारा अब जॉब कार्ड के माध्यम से मजदूरों को रोजगार नहीं मिलेगा। महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना नगरी क्षेत्र में लागू नहीं है Iमरवाही को नगर पंचायत बनाने का दूसरा नुकसान यह है कि अब गरीब से गरीब परिवार को अपने मकान को संपत्ति पंजी में दर्ज कराना पड़ेगा तथा पक्का है या कच्चा उसके हिसाब से संपत्ति कर लगेगा। छोटे कच्चे मकानों को समेतिक कर लगेगा ।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Avatar
Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ढाई वर्षो से लापता बालिका को ढुढने मे सफल हुई लोहारा पुलिस I

Advertisement बालिका के पता साजी पर पुलिस अक्षीक्षक महोदय द्वारा उदघोषित किया ...

error: Content is protected !!