close button
ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / महिला सचिव की लाश उसके ही मकान में मिलने से सनसनी ।
.

महिला सचिव की लाश उसके ही मकान में मिलने से सनसनी ।

Advertisement

महिला के पति की भी हो चुकी है हत्या , अनुकंपा नियुक्ति मिली थी महिला को ।

महिला के मुंह और गले पर चोट के निशान, हत्या के कारणों की जाँच में जुटी पुलिस।

 

दबंग न्यूज लाईव
मंगलवार 25.08.2020

 

बिलासपुर- सकरी थाना अंतर्गत उसलापुर बस्ती में महिला की लाश उनके ही बंद मकान में मिलने से सनसनी फैल गई है। बताया जा रहा है कि मृतक चंदना डड़सेना मुंगेली जिले के सरगांव में चुंचुनिया गांव में पंचायत सचिव के तौर पर कार्य किया करती थी। उनके पति विजय डड़सेना की हत्या के बाद उन्हें अनुकंपा नियुक्ति में सरकारी नौकरी हासिल हुई थी।


उसलापुर बस्ती में अपनी दो बेटियों के साथ चंदना डड़सेना रहती थी। पता चला कि सोमवार को उनकी दोनों बेटियां अपने दोस्तों के साथ कोटा घूमने गई हुई थी। इस बीच चंदना घर पर अकेली ही थी। रात को लौटने के बाद बेटियां नानी के घर चली गई।

उन्होंने अपनी मम्मी को फोन भी किया, पर उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया, लेकिन बेटियां इसलिए निश्चिंत हो गई क्योंकि अक्सर उनकी मम्मी नाराज होने पर फोन रिसीव नहीं करती थी। बताते हैं कि मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे उनका कोई परिचित जब उनके घर आया, तो उसने घर पर महिला के शव को देखा।

जिसके बाद पुलिस और चंदना डड़सेना की दोनों बेटियों को सूचना दी गई। उनकी एक बेटी स्कूल मे तो दूसरी कॉलेज में पढ़ाई कर रही है। शुरुआती जांच में पता चला है कि चंदना डड़सेना का सारबहरा निवासी किसी जय करण सिंह नाम के व्यक्ति से पुराना विवाद है, और इसी व्यक्ति की वजह से उन्होंने एक बार आत्महत्या का भी प्रयास किया था।

फिलहाल पुलिस जयकरण सिंह को ही संदेही मानकर चल रही है। घटना की जानकारी मिलने के बाद सकरी पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है। जिन्हें संदेह है कि महिला की हत्या की गई है। बताया जा रहा है कि चंदना की हत्या गला घोट कर की गई है, चंदना के मुंह और गले को दबाने के निशान पुलिस को मिले हैं। महिला के शरीर पर चोट के भी कुछ निशान मिले हैं। पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152
x

Check Also

प्रदेश में स्कूल संचालन को लेकर हर दिन नए आदेश । अब छठवीं से ग्यारहवीं तक नहीं लगेगी कक्षाएं ।

Advertisement फिर पहली से पांचवीं की कक्षाओं का संचालन क्यों ? करोना ...

error: Content is protected !!