ब्रेकिंग न्यूज़
Home / करगी रोड / सचिव ने की शिकायत की सीईओ पर हो जुर्म दर्ज ।

सचिव ने की शिकायत की सीईओ पर हो जुर्म दर्ज ।

Advertisement

फर्जी तरीके से एक पंचायत की राशि दुसरे पंचायत के सचिव के हस्ताक्षर से निकलवा ली ।

सीईओ ने दुसरे पंचायत के सचिव से साईन करवाकर निकला लिए सात लाख से ज्यादा की रकम ।

 

दबंग न्यूज लाईव
मंगलवार 16.06.2020

 

बिलासपुर – पंचायत में बजट आया नहीं कि गिद्धों की नजर इस पर लग जाती है । इसमें पंचायत में ठेके करने वालों से लेकर करारोपण अधिकारी , पंचायत इंस्पेक्टर , आडिटर , जनपद में काम करने वाले बाबू से लेकर सीईओ तक शामिल होते हैं । सब मिल बांट कर बजट ऐसे चट करने में लग जाते हैं जेैसे बजट पंचायत केे काम के लिए इनके खाने के लिए आया हो ।

हर बिल में कमीशन , हर काम के पैसे , बिन पैसे मजाल है जनपद से कुछ काम करवा लो सब आपसी मेलजोल से काम करते हैं इसलिए कहीं कोई शिकायत और कार्यवाही नहीं होती । लेकिन इस बार एक ग्राम पंचायत के सचिव ने बड़ी हिम्मत करके जनपद के सीईओ के साथ ही तीन चार और लोगों की शिकायत थाने में कर दी कि इन लोगों ने फर्जी तरीके से पंचायत के पैसे को निकाल लिया है ऐसे में इन पर एफआईआर की जाए ।


पूरा मामला मस्तूरी जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत कोकड़ी का है । पंचायत के 14वे वित्त का खाता एक्सिस बैंक जयराम नगर मे है । सचिव का आरोप है कि सेविंग खाता से ₹7,29,000 सात लाख उनतीस हजार रूपए। पूर्व जनपद पंचायत सीईओ डीआर जोगी, ग्राम पंचायत कोकड़ी के पूर्व सरपंच डिलेश कुमार पटेल, और ग्राम पंचायत हरदाडी के सचिव रामनारायण सूर्यवंशी तीनों के द्वारा फर्जी तरीके से सांठगांठ कर नियम विरुद्ध पैसे का आहरण कर गायत्री ट्रेडर्स जांजगीर-चांपा वाले के नाम से चेक जारी कर कर दिया गया है।

इस मामले को लेकर ग्राम पंचायत कोकड़ी के नवनिर्वाचित सरपंच सहित पंचायत प्रतिनिधियों ने जिला कलेक्टर, जिला पंचायत सीईओ, अनुविभागीय अधिकारी मस्तूरी, सहित पचपेड़ी थाना में जाकर, डीआर जोगी, डीलेश कुमार पटेल, रामनारायण सूर्यवंशी, एवं गायत्री ट्रेडर्स के संचालक के नाम पर लिखित में शिकायत 5 अप्रैल 2020 को दर्ज करवाया है। जिसकी अभी तक करवाही नहीं होने पर ग्राम पंचायत कोकड़ी के जनप्रतिनिधि से लेकर ग्रामवासी तक। जिला कलेक्ट्रेट घेराव कर ज्ञापन सौंपने की तैयारी में लगे हुए हैं।

जनपद पंचायत के पूर्व सीईओ डीआर जोगी ने कमीशन खाकर नियम विरुद्ध आहरण करवाए थे पैसे।

जबकि नियम यह है कि 14वे वित्त की राशि आहरण के लिए सचिव सरपंच ऑनलाइन संयुक्त हस्ताक्षर (डोंगल)मैं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत मस्तूरी के सत्यापन पश्चात भुगतान किया जाने का प्रावधान है। लेकिन पूर्व सरपंचों के बताए अनुसार पूर्व जनपद सीईओ डीआर जोगी ने 10ः से 15ः कमीशन लेकर बिना जांच कीये आंख मूंद कर सत्यापन कर देते थे। जनपद सीईओ ने सत्यापन करते वक्त यह भी नहीं देखा कि दूसरे पंचायत के सचिव दूसरे पंचायत के पैसे आहरण करने को सील सहित हस्ताक्षर किए हैं। एक्सिस बैंक में खाता ग्राम पंचायत कोकड़ी का था और हस्ताक्षर ग्राम पंचायत हरदाडी के सचिव ने किया था। जवाबदार पद पर बैठे होने के बावजूद उन्होंने आंख बंद कर कमीशन के चक्कर में कई पंचायतों के फंडिंग व्यवस्था का लुटिया डुबो दिया है।इस समस्या को लेकर ग्राम पंचायत कोकड़ी के ग्राम वासियों सहित पंचायत प्रतिनिधियों में भारी रोष व्याप्त है,जो एक बड़े आंदोलन करने की रूपरेखा तैयार कर रहे हैं।

Advertisement
Advertisement

About sanjeev shukla

Avatar
Sanjeev Shukla DABANG NEWS LIVE Editor in chief 7000322152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

उफनती नदी का पार करती जवानों से भरी बस पलटी ।

Advertisement कोई हताहत नहीं सभी सुरक्षित । दबंग न्यूज लाईव सोमवार 21.09.2020 ...

error: Content is protected !!